ट्रेनी IAS को भाजपा सांसद की धमकी- ऐसा नहीं किया तो जीना मुश्किल कर देंगे

priyanka-rawat-bjp

Bjp Lawmaker Priyanka Singh Rawat Threatens Trainee Ias

लखनऊ। सीएम योगी आदित्यनाथ एक तरफ सरकारी जमीनों से अवैध कब्जे हटाने के सख्त निर्देश दे रहे हैं, वहीं सत्ता पक्ष के लोग अधिकारियों को धमकी देने से बाज नहीं आते। ताजा मामला बाराबंकी का है, यहां अवैध कब्जा हटाने पहुंचे सिरौली गौसपुर के एसडीएम (ट्रेनी आईएएस) अजय कुमार द्विवेदी को सांसद प्रियंका रावत ने जमकर फटकार लगा दी। सांसद ने एसडीएम से कहा, उन्हें जनप्रतिनिधि से बात करते वक़्त प्रोटोकॉल का ध्यान रखना चाहिए। ऐसा नहीं किया तो वो उनका जीना मुश्किल कर देंगी।

दरअसल, सफदरगंज क्षेत्र के चैला गांव के तालाब व सरकारी स्कूल की ज़मीन पर वहां के भाजपा के मंडल अध्यक्ष आलोक सिंह का कब्ज़ा है। इस अवैध अतिक्रमण को हटाने गये नायब तहसीलदार व राजस्व विभाग की टीम से ग्रामीणों की नोकझोंक हो गई। मौके पर एसडीएम अजय कुमार द्विवेदी को बुलाया लिया गया। इस दौरान सांसद प्रतिनिधि राजेश वर्मा से उनकी नोकझोंक होने लगी।

ग्रामीणों की संख्या बढ़ती देख एसडीएम मौके से जाने लगे। इसी दौरान सांसद प्रियंका रावत भी वहां पहुंच गईं। इसके बाद सांसद और एसडीएम के बीच भी नोंकझोंक देखने को मिली। ट्रेनी आईएएस का आरोप है कि इसके बाद सांसद ने उन्हें धमकी दी और बंधक बनाने का भी प्रयास किया।

क्या कहती हैं सांसद

सांसद प्रियंका रावत का कहना है, बवाल हो जाने के बाद गांव वालों ने एसडीएम को घेर लिया था। मौके पर पहुंचकर मैंने बीच-बचाव किया। उन्हें मेरा शुक्रियादा करना चाहिए, लेकिन वो अब उल्टा ही चल रहे हैं।

लखनऊ। सीएम योगी आदित्यनाथ एक तरफ सरकारी जमीनों से अवैध कब्जे हटाने के सख्त निर्देश दे रहे हैं, वहीं सत्ता पक्ष के लोग अधिकारियों को धमकी देने से बाज नहीं आते। ताजा मामला बाराबंकी का है, यहां अवैध कब्जा हटाने पहुंचे सिरौली गौसपुर के एसडीएम (ट्रेनी आईएएस) अजय कुमार द्विवेदी को सांसद प्रियंका रावत ने जमकर फटकार लगा दी। सांसद ने एसडीएम से कहा, उन्हें जनप्रतिनिधि से बात करते वक़्त प्रोटोकॉल का ध्यान रखना चाहिए। ऐसा नहीं किया तो वो…