भाजयुमो महामंत्री पर कश्मीर में आतंकी हमले की खबर निकली झूठी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश से भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के राष्ट्रीय महामंत्री अभिजात मिश्रा की गाड़ी पर मंगलवार को कश्मीर में आतंकी हमला होने का खबर आई थी। इस खबर की पुष्टि को लेकर कश्मीर के पुलवामा पुलिस के अधिकारियों से बात की गई तो वाहन पर एक पत्थर लगने की जानकारी दी गई है।

Bjp Leader Abhijat Mishra Attack In Pulwama News Fake :

पुलवामा पुलिस ने स्पष्ट किया है कि यह घटना आतंकी नहीं थी, किसी ने शरारत करते हुए एक पत्थर गाड़ी की तरफ फेंका था। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि अभिजात मिश्रा ने इस घटना को बढ़ा चढ़ाकर दिखाने का प्रयास किया है, घटना स्थल पर किसी तरह की फायरिंग नहीं हुई थी।

आपको बता दें कि अभिजात मिश्रा मंगलवार को कश्मीर के पुलवामा के शोपिया में आतंकवादियों द्वारा मारे गए युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष गौहर अहमद भट्ट के शोकाकुल परिवार से मुलाकात करने के लिए गए थे। जहां से उन्होंने अपने बुलेटप्रूफ वाहन पर आतंकी हमला होने की जानकारी दी थी।

इतना ही नहीं उनकी ओर से लखनऊ आई जानकारी में हमले को बेहद गंभीर बताते हुए इलाके को सील किए जाने की बात कही गई थी। जो स्थानीय पुलिस अधिकारी से बातचीत के बाद झूठी निकली है।

इस घटना को लेकर पुलवामा के पुलिस अधिकारी से हुई बातचीत का आॅडियो सोशल साइट्स पर तेजी से वायरल हो रहा है। जिसके साथ अभिजीत मिश्रा द्वारा अपने ऊपर हुए आतंकी हमले का दुष्प्रचार करने का आरोप लग रहा है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश से भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के राष्ट्रीय महामंत्री अभिजात मिश्रा की गाड़ी पर मंगलवार को कश्मीर में आतंकी हमला होने का खबर आई थी। इस खबर की पुष्टि को लेकर कश्मीर के पुलवामा पुलिस के अधिकारियों से बात की गई तो वाहन पर एक पत्थर लगने की जानकारी दी गई है। पुलवामा पुलिस ने स्पष्ट किया है कि यह घटना आतंकी नहीं थी, किसी ने शरारत करते हुए एक पत्थर गाड़ी की तरफ फेंका था। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि अभिजात मिश्रा ने इस घटना को बढ़ा चढ़ाकर दिखाने का प्रयास किया है, घटना स्थल पर किसी तरह की फायरिंग नहीं हुई थी। आपको बता दें कि अभिजात मिश्रा मंगलवार को कश्मीर के पुलवामा के शोपिया में आतंकवादियों द्वारा मारे गए युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष गौहर अहमद भट्ट के शोकाकुल परिवार से मुलाकात करने के लिए गए थे। जहां से उन्होंने अपने बुलेटप्रूफ वाहन पर आतंकी हमला होने की जानकारी दी थी। इतना ही नहीं उनकी ओर से लखनऊ आई जानकारी में हमले को बेहद गंभीर बताते हुए इलाके को सील किए जाने की बात कही गई थी। जो स्थानीय पुलिस अधिकारी से बातचीत के बाद झूठी निकली है। इस घटना को लेकर पुलवामा के पुलिस अधिकारी से हुई बातचीत का आॅडियो सोशल साइट्स पर तेजी से वायरल हो रहा है। जिसके साथ अभिजीत मिश्रा द्वारा अपने ऊपर हुए आतंकी हमले का दुष्प्रचार करने का आरोप लग रहा है।