बीफ के बाद ‘मोमोज’ बैन की मांग बढ़ी, भाजपा MLC ने छेड़ी मुहिम

जम्मू। चाइनीज फूड के शौकिनों के लिये ये खबर बुरी हो सकती है। देशभर में बीफ बैन के बाद अब फास्ट फूड ‘मोमोज’ को बैन करने की मांग उठनी शुरू हो गयी है। पिछले 15 दिनों से मोमोज को बैन करने के लिये जम्मू-कश्मीर में रैलियां निकाली जा रही हैं। इस मुहिम को भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के एमएलसी रमेश अरोड़ा लीड कर रहे हैं। भाजपा नेता का कहना है, मोमोज शराब और ड्रग से ज्यादा खतरनाक है।

Bjp Leader Ramesh Arora Protest Against Momos In Jammu :

जम्मू की सड़कों पर रैली में कई धर्मगुरु भी शामिल रहे। प्रदर्शनकारी अपने साथ तख्तियां और बैनर लेकर आए थे, जिन पर ‘momos silent killer’ और ‘momos-slow death’ जैसे स्लोगन लिखे गये थे। ये लोग रैलियों के द्वारा आम जनता को मोमोज खाने से होने वाले नुकसान के बारे में बता रहे थे।

अरोड़ा ने दावा किया है, मोमोज में स्वाद बढ़ाने के लिए अजिनोमोटो (मोनोसोडियम ग्लूटामेट) का इस्तेमाल किया जाता है, जो कि हेल्थ के लिए नुकसानदेह है। कई जानलेवा बीमारियों के साथ यह कैंसर की वजह भी बन सकता है।

जम्मू। चाइनीज फूड के शौकिनों के लिये ये खबर बुरी हो सकती है। देशभर में बीफ बैन के बाद अब फास्ट फूड 'मोमोज' को बैन करने की मांग उठनी शुरू हो गयी है। पिछले 15 दिनों से मोमोज को बैन करने के लिये जम्मू-कश्मीर में रैलियां निकाली जा रही हैं। इस मुहिम को भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के एमएलसी रमेश अरोड़ा लीड कर रहे हैं। भाजपा नेता का कहना है, मोमोज शराब और ड्रग से ज्यादा खतरनाक है।जम्मू की सड़कों पर रैली में कई धर्मगुरु भी शामिल रहे। प्रदर्शनकारी अपने साथ तख्तियां और बैनर लेकर आए थे, जिन पर 'momos silent killer' और 'momos-slow death' जैसे स्लोगन लिखे गये थे। ये लोग रैलियों के द्वारा आम जनता को मोमोज खाने से होने वाले नुकसान के बारे में बता रहे थे।अरोड़ा ने दावा किया है, मोमोज में स्वाद बढ़ाने के लिए अजिनोमोटो (मोनोसोडियम ग्लूटामेट) का इस्तेमाल किया जाता है, जो कि हेल्थ के लिए नुकसानदेह है। कई जानलेवा बीमारियों के साथ यह कैंसर की वजह भी बन सकता है।