सीएए का विरोध करना बीजेपी नेताओं को पड़ा भारी, पार्टी ने दो को किया निलंबित

bjp
सीएए का विरोध करना बीजेपी नेताओं को पड़ा भारी, पार्टी ने दो को किया निलंबित

मुंबई। महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी के नगर ​परिषद के चेयरपर्सन और एक अन्य स्थानीय निकाय के उपप्रमुख को नागरिकता संशोन कानून (सीएए) का विरोध करना भारी पड़ गया। पार्टी ने दोनों नेताओं को निलंबित कर दिया है। नगर परिषद में भाजपा सत्तारूढ़ है।

Bjp Leaders Face Heavy Opposition To Caa Party Suspended Two :

भाजपा प्रवक्ता केशव उपाध्याय ने बुधवार को अपने टि्वटर हैंडल पर निलंबन पत्र पोस्ट किए। पत्रों के मुताबिक, परभनी स्थित सेलू नगर परिषद के चेयरपर्सन विनोद बरोड़े और पालम नगर परिषद के उपप्रमुख बालासाहेब रोकड़े को पार्टी ने निलंबित कर दिया है।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने पत्रों में कहा कि दोनों पार्टी नेताओं ने संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ मतदान करके अनुशासनहीनता दिखाई है, इसलिए उन्हें पार्टी से निलंबित किया गया है। पत्रों में निलंबन अवधि के बारे में नहीं बताया गया है।

मुंबई। महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी के नगर ​परिषद के चेयरपर्सन और एक अन्य स्थानीय निकाय के उपप्रमुख को नागरिकता संशोन कानून (सीएए) का विरोध करना भारी पड़ गया। पार्टी ने दोनों नेताओं को निलंबित कर दिया है। नगर परिषद में भाजपा सत्तारूढ़ है। भाजपा प्रवक्ता केशव उपाध्याय ने बुधवार को अपने टि्वटर हैंडल पर निलंबन पत्र पोस्ट किए। पत्रों के मुताबिक, परभनी स्थित सेलू नगर परिषद के चेयरपर्सन विनोद बरोड़े और पालम नगर परिषद के उपप्रमुख बालासाहेब रोकड़े को पार्टी ने निलंबित कर दिया है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने पत्रों में कहा कि दोनों पार्टी नेताओं ने संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ मतदान करके अनुशासनहीनता दिखाई है, इसलिए उन्हें पार्टी से निलंबित किया गया है। पत्रों में निलंबन अवधि के बारे में नहीं बताया गया है।