सामूहिक हत्याकांड के आरोपी BJP विधायक अशोक चंदेल ने कोर्ट में किया सरेंडर, समर्थकों ने की जमकर नारेबाजी

hamirpur
सामूहिक हत्याकांड के आरोपी BJP विधायक अशोक चंदेल ने किया कोर्ट में सरेंडर, समर्थकों ने की जमकर नारेबाजी

हमीरपुर। उत्तर प्रदेश के हमीरपुर में हुए सामूहिम हत्याकांड के मामले में कोर्ट ने BJP विधायक अशोक चंदेल समेत नौ लोगों को उम्रकैद की सजा सुनाई थी। इस मामले में आरोपी BJP विधायक अशोक चंदेल ने सोमवार को डीजे कोर्ट में सरेंडर किया। कोर्ट में विधायक के साथ रघुवीर सिंह पुत्र आशुतोष सिंह, नशीम और भान सिंह ने भी आत्मसमर्पण किया।

Bjp Mla Ashok Chandel Surrenders In Court :

कोर्ट में विधायक के समर्थक भारी संख्या मौजूद रहे। अशोक चंदेल के कोर्ट के बाहर गाड़ी से उतरते ही उनके समर्थकों ने उन्हें घेर लिया और जमकर नारेबाजी करने लगेे। कुछ समर्थकों ने उन्हें रोकने की भी कोशिश की।  वहीं हमीरपुर कोतवाली पुलिस ने उत्तम सिंह, प्रदीप सिंह और साहब सिंह को गिरफ्तार किया है।

आपको बता दें कि स्थानीय अदालत ने वारंट जारी कर सभी दोषियों को 13 मई तक हाजिर करने का आदेश दिया था। शनिवार व रविवार को अवकाश होने पर दोषी अदालत में हाजिर नहीं हो सके थे। करीब 22 वर्ष पूर्व मुख्यालय में हुए सामूहिक हत्याकांड मामले में उच्च न्यायालय प्रयागराज ने 19 अप्रैल को सदर विधायक अशोक सिंह चंदेल समेत नौ लोगों को उम्रकैद की सजा सुनाई थी।

छह मई को न्यायालय संख्या दो के न्यायाधीश ने सभी को गैर जमानती वारंट जारी किए थे। इसमें 13 मई तक सभी दोषियों की गिरफ्तारी का समय दिया था। वारंट का समय भी सोमवार तक था। सोमवार को विधायक समेत सभी दोषी अदालत में हाजिर हुए।

हमीरपुर। उत्तर प्रदेश के हमीरपुर में हुए सामूहिम हत्याकांड के मामले में कोर्ट ने BJP विधायक अशोक चंदेल समेत नौ लोगों को उम्रकैद की सजा सुनाई थी। इस मामले में आरोपी BJP विधायक अशोक चंदेल ने सोमवार को डीजे कोर्ट में सरेंडर किया। कोर्ट में विधायक के साथ रघुवीर सिंह पुत्र आशुतोष सिंह, नशीम और भान सिंह ने भी आत्मसमर्पण किया। कोर्ट में विधायक के समर्थक भारी संख्या मौजूद रहे। अशोक चंदेल के कोर्ट के बाहर गाड़ी से उतरते ही उनके समर्थकों ने उन्हें घेर लिया और जमकर नारेबाजी करने लगेे। कुछ समर्थकों ने उन्हें रोकने की भी कोशिश की।  वहीं हमीरपुर कोतवाली पुलिस ने उत्तम सिंह, प्रदीप सिंह और साहब सिंह को गिरफ्तार किया है। आपको बता दें कि स्थानीय अदालत ने वारंट जारी कर सभी दोषियों को 13 मई तक हाजिर करने का आदेश दिया था। शनिवार व रविवार को अवकाश होने पर दोषी अदालत में हाजिर नहीं हो सके थे। करीब 22 वर्ष पूर्व मुख्यालय में हुए सामूहिक हत्याकांड मामले में उच्च न्यायालय प्रयागराज ने 19 अप्रैल को सदर विधायक अशोक सिंह चंदेल समेत नौ लोगों को उम्रकैद की सजा सुनाई थी। छह मई को न्यायालय संख्या दो के न्यायाधीश ने सभी को गैर जमानती वारंट जारी किए थे। इसमें 13 मई तक सभी दोषियों की गिरफ्तारी का समय दिया था। वारंट का समय भी सोमवार तक था। सोमवार को विधायक समेत सभी दोषी अदालत में हाजिर हुए।