गौरी मेरी बहन जैसी, अगर वो RSS व BJP के खिलाफ नहीं लिखती तो जिंदा होती: बीजेपी विधायक

बेंगलुरु। मूलतः कन्नड भाषी महिला पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के बाद राजनीति तेज़ हो गयी है। तमाम राजनीतिक पार्टियां इस मौके को मनचाहे ढंग से भुनाना चाहती है। नेताओं की बयानबाजी का दौर शुरू है। अब इसी कड़ी में एक बीजेपी विधायक ने हैरान करने वाला बयान दिया है। कर्नाटक के श्रृंगेरी से बीजेपी के एक विधायक और पूर्व मंत्री जीवराज ने कहा कि अगर गौरी लंकेश राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के लोगों की मौत के जश्न के बारे में ना लिखती तो शायद आज जिंदा होतीं। वह मेरे बहन जैसी थी लेकिन उनकी लेखनी बर्दाश्त के बाहर थी जिस वजह आज वह हमारे बीच नहीं है।

दरअसल अपने पूरे सम्बोधन के दौरान विधायक ने कहा कि हमने देखा है कि कांग्रेस की सरकार के कार्यकाल में कई आरएसएस कार्यकर्ताओं ने जान गंवाई है। अगर गौरी लंकेश ने आरएसएस के खिलाफ नहीं लिखा होता तो वह ज़िंदा होतीं। गौरी मेरी बहन जैसी हैं लेकिन जिस तरह उन्होंने हमारे खिलाफ़ लिखा, वो स्वीकार नहीं किया जा सकता है। कर्नाटक के अलग-अलग हिस्सों से आए पार्टी कार्यकर्ताओं की मंगलुरु में बाइक रैली पर पुलिस ने रोक लगाई थी जिसके बाद जीवराज कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे।

{ यह भी पढ़ें:- संगीत सोम ने ताजमहल को बताया भारतीय संस्कृति पर धब्बा, ओवैसी ने किया पलटवार }

जीवराज ने कहा कि कांग्रेस राज में हमनें संघ के लोगों को मरते हुए देखा, जिसके बाद गौरी लंकेश ने भी उनके बारे में लिखा। लेकिन अगर वह इस तरह के लेखों से दूरी बनाए रखती तो शायद जीवित होतीं। उन्होंने कहा कि गौरी लंकेश मेरी बहन की तरह हैं, लेकिन जिस तरह से उन्होंने हमारे (बीजेपी और आरएसएस) के खिलाफ लिखा वह गलत था।

{ यह भी पढ़ें:- अमेठी रैली: अमित शाह ने राहुल गांधी से मांगा 3 पीढ़ियों का हिसाब }