बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह का विवादित बयान, सरकारी डॉक्टरों को बताया ‘राक्षस’, पत्रकारों पर भी भड़के

bjp mla surendar singh
बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह का विवादित बयान, सरकारी डॉक्टरों को बताया 'राक्षस', पत्रकारों पर भी भड़के

बलिया। अपने विवादित बयान के कारण अक्सर सुर्खियों में रहने वाले बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह एक ​बार फिर विवादों में हैं। इन्होंने डॉक्टर—डे के मौके पर बलिया के सरकारी डॉक्टरों को लेकर एक विवादित बयान दिया। उन्होंने यहां के डॉक्टरों को ‘राक्षस’ की संज्ञा दे डाली। विधायक यहीं नहीं रूके वह पत्रकारों पर भी जमकर भड़के और उन्हें दलाल बता दिया।

Bjp Mla Surendra Singhs Controversial Statement 2 :

बीजेपी विधायक ने कहा कि, बलिया जिला चिकित्सालय के डॉक्टर मरीजों से मोल—भाव करते हैं, जो शुद्ध रूप से पेशेवर राक्षस हो गए हैं। उन्होंने कहा कि इनकी सद्बुद्धि के लिए परमेश्वर से प्रार्थना कर रहा हूं। सुरेंद्र सिंह इसके बाद पत्रकारों पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि मीडिया बंधुओं का भाव पूरी तरह से पवित्र नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया के पत्रकारों का धंधा सिर्फ थाने व तहसील की दलाली करना है। वहीं, अच्छाई कम छापेंगे बुराई वाली खबरें ज्‍यादा दिखायेंगे।

बीजेपी विधायक ने कहा कि ऐसे लोग पत्रकारिता जगत में क्या संदेश देना चाहते हैं। वहीं, मुरादाबाद में जिला अस्पताल के निरीक्षण के दौरान पत्रकारों को इमरजेंसी वार्ड में बंद करने को लेकर सुरेंद्र सिंह ने कहा कि पत्रकारों को बंद नहीं किया गया था, ​बल्कि उन्हें इज्जत से बैठाया गया था।

मुरादाबाद के डीएम पर आरोप है कि जब सीएम योगी अस्पताल का दौरा करने वाले थे, उससे ठीक पहले डीएम राकेश कुमार सिंह ने अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में दर्जनों मीडियाकर्मियों को बंद करवा दिया। गौरतलब है कि इससे पहले भी विधायक सुरेंद्र सिंह अक्सर विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं। बसपा सुप्रीमो मायावती को लेकर भी वह विवादित बयान दे चुके हैं।

बलिया। अपने विवादित बयान के कारण अक्सर सुर्खियों में रहने वाले बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह एक ​बार फिर विवादों में हैं। इन्होंने डॉक्टर—डे के मौके पर बलिया के सरकारी डॉक्टरों को लेकर एक विवादित बयान दिया। उन्होंने यहां के डॉक्टरों को 'राक्षस' की संज्ञा दे डाली। विधायक यहीं नहीं रूके वह पत्रकारों पर भी जमकर भड़के और उन्हें दलाल बता दिया। बीजेपी विधायक ने कहा कि, बलिया जिला चिकित्सालय के डॉक्टर मरीजों से मोल—भाव करते हैं, जो शुद्ध रूप से पेशेवर राक्षस हो गए हैं। उन्होंने कहा कि इनकी सद्बुद्धि के लिए परमेश्वर से प्रार्थना कर रहा हूं। सुरेंद्र सिंह इसके बाद पत्रकारों पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि मीडिया बंधुओं का भाव पूरी तरह से पवित्र नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया के पत्रकारों का धंधा सिर्फ थाने व तहसील की दलाली करना है। वहीं, अच्छाई कम छापेंगे बुराई वाली खबरें ज्‍यादा दिखायेंगे। बीजेपी विधायक ने कहा कि ऐसे लोग पत्रकारिता जगत में क्या संदेश देना चाहते हैं। वहीं, मुरादाबाद में जिला अस्पताल के निरीक्षण के दौरान पत्रकारों को इमरजेंसी वार्ड में बंद करने को लेकर सुरेंद्र सिंह ने कहा कि पत्रकारों को बंद नहीं किया गया था, ​बल्कि उन्हें इज्जत से बैठाया गया था। मुरादाबाद के डीएम पर आरोप है कि जब सीएम योगी अस्पताल का दौरा करने वाले थे, उससे ठीक पहले डीएम राकेश कुमार सिंह ने अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में दर्जनों मीडियाकर्मियों को बंद करवा दिया। गौरतलब है कि इससे पहले भी विधायक सुरेंद्र सिंह अक्सर विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं। बसपा सुप्रीमो मायावती को लेकर भी वह विवादित बयान दे चुके हैं।