भाजपा सांसद हुकुम सिंह ने मुसलमानों को लेकर दिया विवादित बयान

भाजपा सांसद हुकुम सिंह ने मुसलमानों को लेकर दिया विवादित बयान

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के कैराना से हिन्दुओं के पलायन का मुद्दा उठाकर सियासी उफान लाने वाले भाजपा सांसद हुकुम सिंह ने एक बार फिर मुसलमानों को लेकर तीखा बयान दिया है। सांसद ने कहा कि कुछ लोगों में इतनी हिम्मत और साहस है कि वे नाबालिग लड़कियों का अपहरण कर लेते हैं उनके साथ रेप करते हैं कहना है कि एक कौम के लोगों में इतनी हिम्मत है कि नाबालिग बच्चियों को उठा ले जाते हैं, उनके साथ रेप करते हैं। वे आज भी होश में नहीं हैं, अगर भारत में ये हाल है तो पाकिस्तान में बसे हिन्दुओं के साथ क्या हो रहा होगा?

दरअसल हुकुम​​ सिंह शामली में सामने आई एक अपहरण और गैंगरेप की वारदात पर अपनी भड़ास निकाल रहे थे। कुछ दिन पूर्व सामने आई इस घटना में एक नाबालिग लड़की को अपहरण के बाद तीन दिनों तक गैंगरेप करने के बाद छोड़ दिया गया था। इस घटना में नाबालिग पीड़िता ने मुस्लिम समुदाय के युवकों पर अपहरण और गैंगरेप का आरोप लगाया था।

{ यह भी पढ़ें:- महकमा मेहरबान तो सरकारी भवन बना प्राइवेट 'गोदाम' }

इस घटना को ध्यान में रखते हुए हुकुम सिंह ने पार्टी के नेताओं की बैठक बुलाई थी। इस बैठक में मुसलमान या मुस्लिम शब्द का प्रयोग बिना ही सांसद ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के होते हुए भी कुछ लोगों में इतनी हिम्मत है कि वे नाबालिग लड़कियों को उठा ले जाते हैं, उनका अपहरण कर रेप करते हैं। आखिर इन लोगों में इतना साहस कहां से आ रहा है।

सांसद यहीं तक रुके उन्होंने कहा कि इन्हें संस्कार ही ऐसे दिए जाते हैं, इन्हें सिखाया जाता है कि तुम्हें यही काम करना है। लेकिन अगर हिन्दू लड़कियों का अपहरण किया जाएगा, उनका बलात्कार और शारीरिक शोषण किया जाएगा तो इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

{ यह भी पढ़ें:- ब्लड कैंसर पीड़िता से तीन नहीं छह लोगों ने किया था गैंगरेप, मंत्री ने इंस्पेक्टर को लगाई फटकार }

आपको बता दें कि हुकुम सिंह पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कैराना से सांसद हैं। कैराना उत्तर प्रदेश के सांप्रदायिक तनाव वाले क्षेत्र में आता है, जो 2013 में मुजफ्फरनगर में हुई सांप्रदायिक हिंसा में तनावग्रस्त रहा था। जबकि सांसद ने जिस घटना का जिक्र अपने बयान में किया है वह शामली की है। शामली मुजफ्फरनगर की हिंसा में झुलसा था।

Loading...