1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. बीजेपी सांसद साक्षी महाराज जालसाजों ने लगाई 97,500 रुपये की चपत, जानें क्या है मामला

बीजेपी सांसद साक्षी महाराज जालसाजों ने लगाई 97,500 रुपये की चपत, जानें क्या है मामला

बीजेपी सांसद साक्षी महाराज के बैंक खाते में जालसाजों ने सेंध लगा दी है। दो फर्जी चैक के जरिए ठगों ने सांसद के बैंक खाते से 97,500 रुपये निकाल लिए है। नई दिल्ली के डीसीपी दीपक यादव ने बताया कि निहाल सिंह और दिनेश राय नाम के आरोपियों को बिहार से गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों ने पूछताछ में खुलासा किया है कि वह एक हजार से ज्यादा लोगों के बैंक खाते से करोड़ों रुपये निकाल चुके हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। उन्नाव जिले से बीजेपी सांसद साक्षी महाराज के बैंक खाते में जालसाजों ने सेंध लगा दी है। दो फर्जी चैक के जरिए ठगों ने सांसद के बैंक खाते से 97,500 रुपये निकाल लिए है। नई दिल्ली के डीसीपी दीपक यादव ने बताया कि निहाल सिंह और दिनेश राय नाम के आरोपियों को बिहार से गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों ने पूछताछ में खुलासा किया है कि वह एक हजार से ज्यादा लोगों के बैंक खाते से करोड़ों रुपये निकाल चुके हैं।

पढ़ें :- Nude Call के जरिए 250 से ज्यादा लोगों को जाल में फंसाया, इस तरह बनाते थे शिकार
Jai Ho India App Panchang

सांसद साक्षी महाराज ने संसद मार्ग थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी। उन्होंने अपनी शिकायत में कहा था कि किसी ने दो फर्जी चैक से उनके एसबीआई बैंक खाते से 97,500 रुपये निकाल लिए हैं। सांसद ने अपनी शिकायत में कहा था कि जिन चेक से रुपये निकाले गए हैं वह उनके पास हैं।

पुलिस ने एसबीआई बैंक से डिटेल्स निकाली तो पता लगा कि आरोपियों ने सांसद के बैंक खाते से तीन फर्जी चैक लगाए थे, निहाल को दिनेश राय फर्जी चैक देता था। वह इन चैक को अलग-अलग बैंकों में जमाकर पैसे ट्रांसपर करता था। इस काम के लिए उसे ठगी की रकम में 30 फीसदी कमीशन मिलता था।

दिनेश राय ने पूछताछ में बताया है कि वह फर्जी चेक छपवाता था और फिर बैंकों में जमा करवाता था। पुलिस दिनेश राय को रिमांड पर लेकर पूछताछ कर रही है। पुलिस अधिकारियों के अनुसार आरोपी बैंकों में 50 हजार से कम का ही चैक लगाते थे। 50 हजार व उससे ज्यादा का चैक लगाने पर बैंक संबंधित ग्राहक को सूचना देती है।

पुलिस के मुताबिक आरोपी पूरे देश में ठगी करते थे. जांच में बैंक कर्मचारियों की मिलीभगत सामने आ रही है। ये पीड़ित का चैक नंबर, खाता नंबर व हस्ताक्षर बैंक कर्मचारियों से ही लेते थे। ऐसे में पुलिस आरोपी बैंक कर्मचारियों की तलाश कर रही है।

पढ़ें :- Saif murder Case: एक्स-गर्लफ्रेंड से दोस्ती पर भड़का था आरोपी, चाकू से गोदकर की थी हत्या

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...