भाजपा सांसद के ट्विट ने मचाया हड़कम्प, पुलिस पर उठाया सवाल

a

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ की मोहनलालगंज लोकसभी सीट से भाजपा सांसद कौशल किशोर ने मंगलवार को पुलिस के खिलाफ अपना गुस्सा और नाराजगी जाहिर करते हुए पूरे विभाग में हड़कम्प मचा दिया। सांसद ने पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए दो ट्विट किये।

Bjp Mp Tweeted Against Lucknow Police :

उन्होंने मलिहाबाद इंस्पेक्टर पर एक व्यक्ति को बिना किसी आरोप के 24 घंटे तक थाने में बैठाये रखने का आरोप लगाया। सांसद के इस ट्विट के बाद पुलिस महकमे में हड़कम्प मच गया। आनन-फानन में एसएसपी कालानिधि नैथानी ने इस संबंध में सीओ मलिहाबाद को जांच के आदेश दे दिये।

मोहनलालगंज लोकसभा सीट से सांसद कौशल किशोर ने सबसे पहले एक ट्विट किया। इस ट्विट में उन्होंने लिखा कि कुछ थाना प्रभारी सिर्फ भ्रष्टाचारियों, गुण्डों और बदमाश तरह के लोगों का सरंक्षण कर रहे हैं और जनता का शोषण कर रहे हैं। इनको तत्काल नहीं हटाया गया तो सरकार की छवि को नुकसान पहुंचेगा।

ऐसे लोगों को तत्काल प्रभाव से हटा देना चाहिए। इसके कुछ घंटे के बाद उन्होंने ट्विट किया कि मलिहाबाद के केसरी खैड़ा गांव के रहने वाले रूबील नाम के एक व्यक्ति को पिछले 24 घंटे से इंस्पेक्टर मलिहाबाद ने थाने में बिना किसी आरोप के बैठाकर रखा है। मलिहाबाद इंस्पेक्टर का यह तानाशाही रवैया क्षेत्र से सरकार की छवि को नुकसान पहुंचा रहा है, जनता में भारी आक्रोश है। सांसद ने अपने इस ट्विट को यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ, डीजीपी, एडीजी, आईजी और लखनऊ पुलिस को टैग किया।

सांसद के ट्विट के बाद मचा हड़कम्प
सांसद कौशल किशोर का ट्विट कुछ ही घंटे के बाद सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। लोगों के बीच तरह-तरह की चर्चाएं होने लगीं। सांसद के इस ट्विट ने पुलिस विभाग में हड़कम्प मचा दिया। इसके कुछ ही घंटे के बाद एसएसपी लखनऊ ने इस पूरे मामले में विभागीय जांच और सीओ मलिहाबाद को तीन दिन के अंदर रिपोर्ट सांैपने का आदेश दिया है। साथ ही लखनऊ पुलिस की तरफ से ट्विट भी किया गया है कि मामला नाली के विवाद का है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ की मोहनलालगंज लोकसभी सीट से भाजपा सांसद कौशल किशोर ने मंगलवार को पुलिस के खिलाफ अपना गुस्सा और नाराजगी जाहिर करते हुए पूरे विभाग में हड़कम्प मचा दिया। सांसद ने पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए दो ट्विट किये। उन्होंने मलिहाबाद इंस्पेक्टर पर एक व्यक्ति को बिना किसी आरोप के 24 घंटे तक थाने में बैठाये रखने का आरोप लगाया। सांसद के इस ट्विट के बाद पुलिस महकमे में हड़कम्प मच गया। आनन-फानन में एसएसपी कालानिधि नैथानी ने इस संबंध में सीओ मलिहाबाद को जांच के आदेश दे दिये। मोहनलालगंज लोकसभा सीट से सांसद कौशल किशोर ने सबसे पहले एक ट्विट किया। इस ट्विट में उन्होंने लिखा कि कुछ थाना प्रभारी सिर्फ भ्रष्टाचारियों, गुण्डों और बदमाश तरह के लोगों का सरंक्षण कर रहे हैं और जनता का शोषण कर रहे हैं। इनको तत्काल नहीं हटाया गया तो सरकार की छवि को नुकसान पहुंचेगा। ऐसे लोगों को तत्काल प्रभाव से हटा देना चाहिए। इसके कुछ घंटे के बाद उन्होंने ट्विट किया कि मलिहाबाद के केसरी खैड़ा गांव के रहने वाले रूबील नाम के एक व्यक्ति को पिछले 24 घंटे से इंस्पेक्टर मलिहाबाद ने थाने में बिना किसी आरोप के बैठाकर रखा है। मलिहाबाद इंस्पेक्टर का यह तानाशाही रवैया क्षेत्र से सरकार की छवि को नुकसान पहुंचा रहा है, जनता में भारी आक्रोश है। सांसद ने अपने इस ट्विट को यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ, डीजीपी, एडीजी, आईजी और लखनऊ पुलिस को टैग किया। सांसद के ट्विट के बाद मचा हड़कम्प सांसद कौशल किशोर का ट्विट कुछ ही घंटे के बाद सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। लोगों के बीच तरह-तरह की चर्चाएं होने लगीं। सांसद के इस ट्विट ने पुलिस विभाग में हड़कम्प मचा दिया। इसके कुछ ही घंटे के बाद एसएसपी लखनऊ ने इस पूरे मामले में विभागीय जांच और सीओ मलिहाबाद को तीन दिन के अंदर रिपोर्ट सांैपने का आदेश दिया है। साथ ही लखनऊ पुलिस की तरफ से ट्विट भी किया गया है कि मामला नाली के विवाद का है।