बीजेपी सांसद ने गृहमंत्री को ​लिखा पत्र, कहा-सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच SIT से कराई जाए

sushant
बीजेपी सांसद ने गृहमंत्री को ​लिखा पत्र, कहा-सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच SIT से कराई जाए

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के सांसद निशिकांज दुबे ने गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखा है। उन्होंने यह पत्र बॉलीवुड के दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को लेकर लिखा है। उन्होंने पत्र में लिखा है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच एसआईटी से कराई जाए।

Bjp Mp Wrote To Home Minister Said Sushant Singh Rajput Case Should Be Investigated By Sit :

दरअसल, सुशांत सिंह की मौत के बाद से सोशल मीडिया से लेकर सड़कों तक लोग उतर रहे हैं और उनकी मौत के पीछे एक गहरी साजिश बता रहे हैं। हालांकि, सुशांत के परिजन भी इसके पीछे साजिश की आशंका जाहिर कर चुके हैं। सांसद निशिकांत दुबे ने पत्र में कहा है कि, मैं संसद के अंदर भी कोशिश करूंगा कि वहां भी एक सहमति बनाई जाए, कि जिससे एसआईटी का गठन हो। इससे देश में कोई दूसरा सुशांत सिंह राजपूत न हो सके।’

उन्होंने कहा कि एसआईटी जांच से पूर्वांचल और हिंदी भाषी क्षेत्र के लोगों का जो शोषण हो रहा है, वह रुक सकेगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि एक एसआईटी का गठन हो, जिसमें ईडी, इनकम टैक्स, सीबीआई, एनआईए हो और मामले की पूरी जांच की जाए।

निशिकांत दुबे से पहले केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो सीबीआई और रूपा गांगुली एसआईटी जांच की मांग कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि फिल्म उद्योग के मामले को नियंत्रित करने के लिए कानूनी ढांचे की जरूरत है। उन्होंने आरोप लगाया कि इसे माफिया से लिंक वाले लोगों द्वारा नियंत्रित किया जा रहा है और वे छोटे शहरों के रहने वाले अभिनेताओं को आगे बढ़ने नहीं देते हैं।

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के सांसद निशिकांज दुबे ने गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखा है। उन्होंने यह पत्र बॉलीवुड के दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को लेकर लिखा है। उन्होंने पत्र में लिखा है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच एसआईटी से कराई जाए। दरअसल, सुशांत सिंह की मौत के बाद से सोशल मीडिया से लेकर सड़कों तक लोग उतर रहे हैं और उनकी मौत के पीछे एक गहरी साजिश बता रहे हैं। हालांकि, सुशांत के परिजन भी इसके पीछे साजिश की आशंका जाहिर कर चुके हैं। सांसद निशिकांत दुबे ने पत्र में कहा है कि, मैं संसद के अंदर भी कोशिश करूंगा कि वहां भी एक सहमति बनाई जाए, कि जिससे एसआईटी का गठन हो। इससे देश में कोई दूसरा सुशांत सिंह राजपूत न हो सके।' उन्होंने कहा कि एसआईटी जांच से पूर्वांचल और हिंदी भाषी क्षेत्र के लोगों का जो शोषण हो रहा है, वह रुक सकेगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि एक एसआईटी का गठन हो, जिसमें ईडी, इनकम टैक्स, सीबीआई, एनआईए हो और मामले की पूरी जांच की जाए। निशिकांत दुबे से पहले केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो सीबीआई और रूपा गांगुली एसआईटी जांच की मांग कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि फिल्म उद्योग के मामले को नियंत्रित करने के लिए कानूनी ढांचे की जरूरत है। उन्होंने आरोप लगाया कि इसे माफिया से लिंक वाले लोगों द्वारा नियंत्रित किया जा रहा है और वे छोटे शहरों के रहने वाले अभिनेताओं को आगे बढ़ने नहीं देते हैं।