BJP नेता की आगरा में गोली मार कर हत्या, मौजूद लोगों ने आरोपी का किया ये हाल

आगरा। यूपी के आगरा में सोमवार भाजपा कार्यकर्ता नाथूराम वर्मा की गोली मार कर हत्या कर दी गयी। हत्या के बाद मौके पर भीड़ इकट्ठा हो गयी। शव उठाने पहुंची पुलिस टीम पर गुस्साई भीड़ ने पथराव और फायरिंग भी की। खबर है कि गांव वालों ने एक आरोपी को पीट-पीट कर मार डाला साथ ही एक पुलिस चौकी और वैन में आग लगाई गई। घटना के बाद रात में ही मौके पर डीएम गौरव दयाल और एसएसपी दिनेश चंद्र दुबे ने मोर्चा संभाल लिया।



Bjp Neta Ki Aagra Mein Goli Maar Kar Hatya Maujod Logon Ne Aaropi Ka Kiya Haal :

घटना फतेहाबाद के डोकी इलाके की है। दो बाइक पर सवार कुछ बदमाश आए और नाथूराम को 6 गोलि‍यां मारीं जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। हत्या का आरोप दो सगे भाइयों पर लगाया जा रहा है। वारदात के बाद भड़के लोगों ने दोनों आरोपियों की जमकर पीटाई की। आरोपी सुधीर ने अस्पताल में ही दम तोड़ दिया। इलाके का पूरा माहौल तनावपूर्ण है। अब कोई गंभीर मामला सामने न आए इसलिए इलाके में भारी पुलिस फोर्स तैनात की गई है।

आईजी अशोक मुथा जैन ने बताया, अब तक जानकारी मिली है कि समर सिंह और उसके भाई ने नाथूराम को गोली मारी है। हत्या की वजह हो एक पुराना विवाद हो सकता है। इलाके में तनाव को देखते हुए पुलिस तैनात है।

आगरा। यूपी के आगरा में सोमवार भाजपा कार्यकर्ता नाथूराम वर्मा की गोली मार कर हत्या कर दी गयी। हत्या के बाद मौके पर भीड़ इकट्ठा हो गयी। शव उठाने पहुंची पुलिस टीम पर गुस्साई भीड़ ने पथराव और फायरिंग भी की। खबर है कि गांव वालों ने एक आरोपी को पीट-पीट कर मार डाला साथ ही एक पुलिस चौकी और वैन में आग लगाई गई। घटना के बाद रात में ही मौके पर डीएम गौरव दयाल और एसएसपी दिनेश चंद्र दुबे ने मोर्चा संभाल लिया। घटना फतेहाबाद के डोकी इलाके की है। दो बाइक पर सवार कुछ बदमाश आए और नाथूराम को 6 गोलि‍यां मारीं जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। हत्या का आरोप दो सगे भाइयों पर लगाया जा रहा है। वारदात के बाद भड़के लोगों ने दोनों आरोपियों की जमकर पीटाई की। आरोपी सुधीर ने अस्पताल में ही दम तोड़ दिया। इलाके का पूरा माहौल तनावपूर्ण है। अब कोई गंभीर मामला सामने न आए इसलिए इलाके में भारी पुलिस फोर्स तैनात की गई है।आईजी अशोक मुथा जैन ने बताया, अब तक जानकारी मिली है कि समर सिंह और उसके भाई ने नाथूराम को गोली मारी है। हत्या की वजह हो एक पुराना विवाद हो सकता है। इलाके में तनाव को देखते हुए पुलिस तैनात है।