जानिये जदयू-भाजपा गठबंधन पर क्या बोले अमित शाह

nitish-amit-shah
जानिये जदयू-भाजपा गठबंधन पर क्या बोले अमित शाह

पटना। भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह गुरुवार को पटना पहुंचे। यहां उन्होने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की। दोनों नेताओं ने साथ में सुबह का नाश्ता किया। इस दौरान करीब एक घंटे तक दोनों नेताओं ने सियासी चर्चा की। अपने दो दिवसीय बिहार दौरे पर गुरुवार को पटना पहुंचे अमित शाह ने नीतीश कुमार से यहां राजकीय अतिथिशाला में मुलाकात की। मुलाकात के बाद शाह ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि जदयू-भाजपा का गठबंधन टूटने नहीं जा रहा। दोनों नेता एक बार फिर रात के भोजन पर मुख्यमंत्री आवास में मिलेंगे और अगले दौर की बातचीत करेंगे।

Bjp President Amit Shah Meets Bihar Chief Minister Nitish Kumar :

जदयू के वरिष्ठ नेता क़ेसी़ त्यागी ने कहा कि गठबंधन के दोनों वरिष्ठ नेताओं के बीच सौहार्दपूर्ण वातावरण में बातचीत हुई है, लेकिन अभी यह पहले ही दौर की बातचीत है। ऐसे में सीट बंटवारे को लेकर सारी बातें तय हो जाएंगी, इस पर संशय है। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव को देखते हुए यह मुलाकात काफी अहम मानी जा रही है।

इस मुलाकात के बाद अमित शाह पटना के ज्ञानभवन पहुंचे जहां वह पार्टी की बैठक में भाग ले रहे हैं। ज्ञानभवन पहुंचने पर शाह का परंपरागत तरीके से स्वागत किया गया। अमित शाह के आगमन को लेकर पटना की सड़कें भाजपा के बैनर, पोस्टरों से भरी पड़ी हैं। सुरक्षा के भी कड़े प्रबंध किए गए हैं। वह शुक्रवार की सुबह दिल्ली प्रस्थान करेंगे।

40 सीटे जीतने का दावा-

पटना दौरे के दौरान अमिता शाह ने कहा, “नीतीश जी हमारे साथ हैं और हमारे साथ ही रहेंगे। शाह ने कहा जिस तरह से हमारे गठबंधन को तोड़ने की कोशिशें चल रही हैं मैं कह देना चाहता हूं कि आगामी लोकसभा चुनाव में हम 40 की 40 सीटें जीतने जा रहे हैं।” विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधते हुए शाह ने कहा कि जिस तरह से दोनों पार्टियों के बीच झगड़े की बात फैलाई जा रही है कुछ भी ऐसा होने वाला नहीं है। ये झगड़ा हो जाएगा वो झगड़ा हो जाएगा, कुछ नहीं होनेवाला आप लार टपकाते रहिये। नीतीश जी का हाथ भाजपा के साथ है।

पटना। भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह गुरुवार को पटना पहुंचे। यहां उन्होने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की। दोनों नेताओं ने साथ में सुबह का नाश्ता किया। इस दौरान करीब एक घंटे तक दोनों नेताओं ने सियासी चर्चा की। अपने दो दिवसीय बिहार दौरे पर गुरुवार को पटना पहुंचे अमित शाह ने नीतीश कुमार से यहां राजकीय अतिथिशाला में मुलाकात की। मुलाकात के बाद शाह ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि जदयू-भाजपा का गठबंधन टूटने नहीं जा रहा। दोनों नेता एक बार फिर रात के भोजन पर मुख्यमंत्री आवास में मिलेंगे और अगले दौर की बातचीत करेंगे।जदयू के वरिष्ठ नेता क़ेसी़ त्यागी ने कहा कि गठबंधन के दोनों वरिष्ठ नेताओं के बीच सौहार्दपूर्ण वातावरण में बातचीत हुई है, लेकिन अभी यह पहले ही दौर की बातचीत है। ऐसे में सीट बंटवारे को लेकर सारी बातें तय हो जाएंगी, इस पर संशय है। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव को देखते हुए यह मुलाकात काफी अहम मानी जा रही है।इस मुलाकात के बाद अमित शाह पटना के ज्ञानभवन पहुंचे जहां वह पार्टी की बैठक में भाग ले रहे हैं। ज्ञानभवन पहुंचने पर शाह का परंपरागत तरीके से स्वागत किया गया। अमित शाह के आगमन को लेकर पटना की सड़कें भाजपा के बैनर, पोस्टरों से भरी पड़ी हैं। सुरक्षा के भी कड़े प्रबंध किए गए हैं। वह शुक्रवार की सुबह दिल्ली प्रस्थान करेंगे।

40 सीटे जीतने का दावा-

पटना दौरे के दौरान अमिता शाह ने कहा, "नीतीश जी हमारे साथ हैं और हमारे साथ ही रहेंगे। शाह ने कहा जिस तरह से हमारे गठबंधन को तोड़ने की कोशिशें चल रही हैं मैं कह देना चाहता हूं कि आगामी लोकसभा चुनाव में हम 40 की 40 सीटें जीतने जा रहे हैं।" विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधते हुए शाह ने कहा कि जिस तरह से दोनों पार्टियों के बीच झगड़े की बात फैलाई जा रही है कुछ भी ऐसा होने वाला नहीं है। ये झगड़ा हो जाएगा वो झगड़ा हो जाएगा, कुछ नहीं होनेवाला आप लार टपकाते रहिये। नीतीश जी का हाथ भाजपा के साथ है।