दयाशंकर सिंह की बीजेपी में वापसी

Bjp Reinstate Dayashankar

लखनऊ। यूपी बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने रविवार को दयाशंकर सिंह की पार्टी सदस्यता को बहाल कर दिया है। दयाशंकर सिंह को बसपा सुप्रीमो मायावती पर अभद्र टिप्पणी करने के बाद पार्टी ने छह साल के लिए बर्खास्त कर दिया था। हालांकि दयाशंकर के विवादों में आने के बाद बसपा नेताओं की ओर से उनके ​परिवार को लेकर की गई अर्मादित टिप्पणियों के विरोध में बीजेपी ने उनकी पत्नी स्वाती सिंह का पूरा साथ दिया था। शनिवार को सामने आए नतीजों में स्वाती सिंह बीजेपी के प्रत्याशी के रूप में लखनऊ की सरोजनीनगर सीट से विजयी हुईं हैं।




दयाशंकर सिंह अपने एक बयान मायावती की तुलना वैश्या से कर बैठे थे। उस समय संसद सत्र के दौरान राज्यसभा में मायावती के खिलाफ हुई अमर्यादित टिप्पणी का मामला तूल पकड़ने के बाद बीजेपी ने दयाशंकर सिंह पर कार्रवाई करते हुए उनकी पार्टी सदस्यता को छह साल के लिए निलंबित कर दिया था।




दयाशंकर सिंह के विवादों में आने के बाद उग्र हुए बसपा कार्यकर्ताओं के साथ बसपा के राष्ट्रीय महासचिव नसीमुद्दीन सिद्दिकी ने जिस तरह की नारेबाजी की उसकी प्रतिक्रिया में राजनीति से दूर रहने वाली उनकी पत्नी स्वाती सिंह को सामने आना पड़ा। वहीं बसपा को अपने हाथ आए एक ज्वलंत मुद्दे को हाथ से गंवा कर बैकफुट पर जाना पड़ा। अपने परिवार को बचाने के लिए सामने आई दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाती सिंह से प्रभावित पार्टी ने जल्द ही उन्हें यूपी बीजेपी महिला मोर्चा का प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त कर लखनऊ की सरोजनी नगर सीट से पार्टी का उम्मीदवार भी घोषित कर दिया।

लखनऊ। यूपी बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने रविवार को दयाशंकर सिंह की पार्टी सदस्यता को बहाल कर दिया है। दयाशंकर सिंह को बसपा सुप्रीमो मायावती पर अभद्र टिप्पणी करने के बाद पार्टी ने छह साल के लिए बर्खास्त कर दिया था। हालांकि दयाशंकर के विवादों में आने के बाद बसपा नेताओं की ओर से उनके ​परिवार को लेकर की गई अर्मादित टिप्पणियों के विरोध में बीजेपी ने उनकी पत्नी स्वाती सिंह का पूरा साथ दिया था। शनिवार को…