BJP ने दिया प्रियंका को जबाब, कांग्रेस को छोड़ हर स्वतंत्रता सेनानी का करते हैं सम्मान

BJP responded to Priyanka
BJP ने दिया प्रियंका को जबाब, कांग्रेस को छोड़ हर स्वतंत्रता सेनानी का करते हैं सम्मान

नई दिल्ली। सरदार बल्ल्भभाई पटेल की जंयती पर प्रियंका गांधी द्वारा कहा गया कि भाजपा का अपना कोई स्व्तंत्रता सेनानी नही है। उसके बाद भाजपा नेताओं ने भी प्रियंका के बयान पर पलटवार शुरू कर दिया है। भाजपा का कहना है कि वो कांग्रेस को छोड़कर हर स्वतंत्रता सेनानी का सम्मान करती है। बीजेपी के कहने का मतलब है कि नेहरू और गांधी परिवार के इर्द गिर्द घूमने वाले कांग्रेसियों को छोड़कर हर स्वतंत्रता सेनानी का भाजपा हमेशा सम्मान करती रहेगी।

Bjp Replies To Priyanka Gandhi Respects Every Freedom Fighter Except Congress :

 

कल प्रियंका गांधी ने टवीट कर कहा था कि सरदार पटेल कांग्रेस के निष्ठावान नेता थे जो कांग्रेस की विचारधारा के प्रति समर्पित थे। वह जवाहरलाल नेहरू के क़रीबी साथी थे और RSS के सख़्त ख़िलाफ थे। आज भाजपा द्वारा उन्हें अपनाने की कोशिशें करते हुए और उन्हें श्रद्धांजलि देते देख के बहुत ख़ुशी होती है, क्योंकि भाजपा के इस ऐक्शन से दो चीज़ें स्पष्ट होती हैं। पहला कि उनका अपना कोई स्वतंत्रता सेनानी महापुरुष नहीं है, तक़रीबन सभी कांग्रेस से जुड़े थे। दूसरा सरदार पटेल जैसे महापुरुष को एक न एक दिन उनके शत्रुओं को भी नमन करना पड़ता है।

भाजपा प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने प्रियंका के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि प्रियंका को पता होना चाहिए कि पटेल पार्टी के नही देश के थे। लगता है कि उनकी टिप्पणिया “ईर्ष्या” से प्रेरित हैं क्योंकि उनकी पार्टी ने पटेल की जयंती पर एक बार भी उल्लेखनीय कार्यक्रम आयोजित नहीं किये। भाजपा का कहना है कि नेहरू-गांधी परिवार से “संबंध” रखने वाली कांग्रेस को छोड़कर स्वतंत्रता संग्राम में शामिल होने वालों का भाजपा हमेशा सम्मान करती है।

वहीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी कहा कि ट्विटर से कटाक्ष करना आसान होता है। उन्होने कहा कि यह कांग्रेस सोनिया गांधी और पी चिदंबरम तक ही सीमित रहती है। स्वतंत्रता संग्राम के दौरान कांग्रेस में जो लोग थे वो भी जवाहरलाल नेहरू का विरोध करते थे और सबसे बड़ी बात आजादी के बाद गांधी जी ने भी कहा था कि कांग्रेस को भंग कर देना चाहिए।

नई दिल्ली। सरदार बल्ल्भभाई पटेल की जंयती पर प्रियंका गांधी द्वारा कहा गया कि भाजपा का अपना कोई स्व्तंत्रता सेनानी नही है। उसके बाद भाजपा नेताओं ने भी प्रियंका के बयान पर पलटवार शुरू कर दिया है। भाजपा का कहना है कि वो कांग्रेस को छोड़कर हर स्वतंत्रता सेनानी का सम्मान करती है। बीजेपी के कहने का मतलब है कि नेहरू और गांधी परिवार के इर्द गिर्द घूमने वाले कांग्रेसियों को छोड़कर हर स्वतंत्रता सेनानी का भाजपा हमेशा सम्मान करती रहेगी।   कल प्रियंका गांधी ने टवीट कर कहा था कि सरदार पटेल कांग्रेस के निष्ठावान नेता थे जो कांग्रेस की विचारधारा के प्रति समर्पित थे। वह जवाहरलाल नेहरू के क़रीबी साथी थे और RSS के सख़्त ख़िलाफ थे। आज भाजपा द्वारा उन्हें अपनाने की कोशिशें करते हुए और उन्हें श्रद्धांजलि देते देख के बहुत ख़ुशी होती है, क्योंकि भाजपा के इस ऐक्शन से दो चीज़ें स्पष्ट होती हैं। पहला कि उनका अपना कोई स्वतंत्रता सेनानी महापुरुष नहीं है, तक़रीबन सभी कांग्रेस से जुड़े थे। दूसरा सरदार पटेल जैसे महापुरुष को एक न एक दिन उनके शत्रुओं को भी नमन करना पड़ता है। भाजपा प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने प्रियंका के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि प्रियंका को पता होना चाहिए कि पटेल पार्टी के नही देश के थे। लगता है कि उनकी टिप्पणिया "ईर्ष्या" से प्रेरित हैं क्योंकि उनकी पार्टी ने पटेल की जयंती पर एक बार भी उल्लेखनीय कार्यक्रम आयोजित नहीं किये। भाजपा का कहना है कि नेहरू-गांधी परिवार से "संबंध" रखने वाली कांग्रेस को छोड़कर स्वतंत्रता संग्राम में शामिल होने वालों का भाजपा हमेशा सम्मान करती है। वहीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी कहा कि ट्विटर से कटाक्ष करना आसान होता है। उन्होने कहा कि यह कांग्रेस सोनिया गांधी और पी चिदंबरम तक ही सीमित रहती है। स्वतंत्रता संग्राम के दौरान कांग्रेस में जो लोग थे वो भी जवाहरलाल नेहरू का विरोध करते थे और सबसे बड़ी बात आजादी के बाद गांधी जी ने भी कहा था कि कांग्रेस को भंग कर देना चाहिए।