भाजपा सरकार की लापरवाही से अयोध्या की धरती और राम भक्तों का घोर अपमान: समाजवादी पार्टी

लखनऊ: समाजवादी पार्टी (सपा) ने अयोध्या में राम नवमी मेले में मची भगदड़ के दौरान एक महिला की मौत के संबंध में भाजपा की योगी सरकार को घेरते हुए कहा कि भाजपा सरकार की अक्षम्य लापरवाही ने अयोध्या की धरती और राम भक्तों का घोर अपमान किया है। अखिलेश सरकार में ऐसे सभी कार्यक्रम सकुशल संपन्न हुए थे।




सपा के मुख्य प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने कहा कि प्रदेश में भाजपा की रामभक्तों की सरकार बनते ही रामजन्म स्थली अयोध्या में बुधवार राम नवमी मेला में भगदड़ मच गई, जिसमें एक महिला की मृत्यु हो गई और बड़ी संख्या में लोग घायल हो गए। जबकि अखिलेश यादव के पांच वर्ष के शासनकाल में चौदहकोशी परिक्रमा, राम नवमी मेला, सावन झूला के कार्यक्रम सकुशल संपन्न हुए थे। समाजवादी सरकार के कार्यकाल में लाखों श्रद्धालु आए, कहीं छोटी-मोटी दुर्घटना भी नहीं हुई।




प्रवक्ता ने कहा, “भाजपा सरकार के कार्यकाल में राम नवमी भव्य तरीके से मनाए जाने की उम्मीद की जाती थी, लेकिन न तो सुचारू व्यवस्था दिखाई पड़ी है और नहीं श्रद्धालुओं को सुविधाएं मिली है। भाजपा सरकार की अक्षम्य लापरवाही ने अयोध्या की धरती और राम भक्तों का घोर अपमान किया है।” सपा ने मांग की है कि मेले में मृतक के आश्रितों को 25 लाख रुपये तथा घायलों के इलाज के लिए समुचित आर्थिक मदद तुरंत उपलब्ध कराई जाए।