नागपुर : BJP कार्यकर्ता समेत परिवार के 4 सदस्यों की हत्या 

नागपुर : BJP कार्यकर्ता समेत परिवार के 4 सदस्यों की हत्या 
नागपुर : BJP कार्यकर्ता समेत परिवार के 4 सदस्यों की हत्या 

नागपुर। पिछले कुछ दिनों से देश के कई इलाकों में बीजेपी वर्कर्स पर हमले की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। पश्चिम बंगाल, केरल, कर्नाटक के बाद अब महाराष्ट्र में बीजेपी कार्यकर्ता की हत्या का ताजा मामला सामने आया है। नागपुर में बीजेपी कार्यकर्ता कमलाकर पवनकर और परिवार के चार अन्य लोगों की हत्या कर दी गई। इस वारदात की सूचना मिलते ही जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया है घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने प्राथमिक जांच में आशंका जताई है कि ये हत्याये पहले से किए गए प्लान के तहत की गई हैं। यह घटना रविवार देर रात की है।

Bjp Worker Kamlakar Pohankar 4 Family Members Murdered In Nagpur :

सूत्रों के अनुसार यह घटना रविवार देर रात की है। हत्यारों ने घर में घुसकर गहरी नींद में सो रहे परिवारवालों की धारदार हथियारों से हत्या कर दी। घर के दूसरे कमरे में मृतक की छोटी बेटी और भांजी सो रही थी जिससे दोनों की जान बच गई। माना जा रहा है कि दूसरे कमरे में होने की वजह से कातिलों का ध्यान उनकी तरफ नहीं गया हालांकि, हत्या की वजह साफ नहीं है। नागपुर मुख्यमंत्री देवेंद्र फणनवीस का गृह नगर है। ऐसे में घटना ने शहर की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए हैं।

साले पर हत्या का शक

मामले की जांच कर रहे नागपुर पुलिस के डीसीपी नीलेश भरणे ने बताया कि कमलाकर के घर के सामने उसके साले विवेक पालटकर की बाइक मिली है, लेकिन उसका फोन बंद आ रहा हैं। इस घटना में विवेक का बेटा मारा गया। पुलिस को शक है की विवेक का इस हत्या में लिंक हो सकता है। विवेक पर साल 2014 में अपनी पत्नी सविता की हत्या का आरोप है। वह कुछ दिन पहले ही जेल से रिहा हुआ है। पुलिस कमलाकर की कॉल डिटेल्स से भी हत्या के सुराग तलाश रही है।

प्रॉपर्टी डीलिंग विवाद भी हत्या का कारण हो सकता है

कमलाकर प्रॉपर्टी की खरीद-फारोख्त भी करते थे। पड़ोसियों ने पुलिस को बताया कि पैसों के लेन-देन को लेकर कुछ समय पहले उनका कुछ लोगों से विवाद हुआ था। पुलिस इस एंगल पर भी जांच कर रही है। घर के अंदर से लूटपाट, छीना-झपटी या चोरी का कोई निशान नहीं मिला है। घर का दरवाजा भी अंदर से खुला हुआ था। इसलिए माना जा रहा है कि इस हत्याकाण्ड में किसी परिचित का हाथ हो सकता है।

नागपुर। पिछले कुछ दिनों से देश के कई इलाकों में बीजेपी वर्कर्स पर हमले की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। पश्चिम बंगाल, केरल, कर्नाटक के बाद अब महाराष्ट्र में बीजेपी कार्यकर्ता की हत्या का ताजा मामला सामने आया है। नागपुर में बीजेपी कार्यकर्ता कमलाकर पवनकर और परिवार के चार अन्य लोगों की हत्या कर दी गई। इस वारदात की सूचना मिलते ही जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया है घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने प्राथमिक जांच में आशंका जताई है कि ये हत्याये पहले से किए गए प्लान के तहत की गई हैं। यह घटना रविवार देर रात की है।सूत्रों के अनुसार यह घटना रविवार देर रात की है। हत्यारों ने घर में घुसकर गहरी नींद में सो रहे परिवारवालों की धारदार हथियारों से हत्या कर दी। घर के दूसरे कमरे में मृतक की छोटी बेटी और भांजी सो रही थी जिससे दोनों की जान बच गई। माना जा रहा है कि दूसरे कमरे में होने की वजह से कातिलों का ध्यान उनकी तरफ नहीं गया हालांकि, हत्या की वजह साफ नहीं है। नागपुर मुख्यमंत्री देवेंद्र फणनवीस का गृह नगर है। ऐसे में घटना ने शहर की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए हैं।

साले पर हत्या का शक

मामले की जांच कर रहे नागपुर पुलिस के डीसीपी नीलेश भरणे ने बताया कि कमलाकर के घर के सामने उसके साले विवेक पालटकर की बाइक मिली है, लेकिन उसका फोन बंद आ रहा हैं। इस घटना में विवेक का बेटा मारा गया। पुलिस को शक है की विवेक का इस हत्या में लिंक हो सकता है। विवेक पर साल 2014 में अपनी पत्नी सविता की हत्या का आरोप है। वह कुछ दिन पहले ही जेल से रिहा हुआ है। पुलिस कमलाकर की कॉल डिटेल्स से भी हत्या के सुराग तलाश रही है।

प्रॉपर्टी डीलिंग विवाद भी हत्या का कारण हो सकता है

कमलाकर प्रॉपर्टी की खरीद-फारोख्त भी करते थे। पड़ोसियों ने पुलिस को बताया कि पैसों के लेन-देन को लेकर कुछ समय पहले उनका कुछ लोगों से विवाद हुआ था। पुलिस इस एंगल पर भी जांच कर रही है। घर के अंदर से लूटपाट, छीना-झपटी या चोरी का कोई निशान नहीं मिला है। घर का दरवाजा भी अंदर से खुला हुआ था। इसलिए माना जा रहा है कि इस हत्याकाण्ड में किसी परिचित का हाथ हो सकता है।