1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. CM Hemant Soren का बीजेपी बड़ा अटैक , बोले-‘संवैधानिक संस्थानों को तो खरीद लोगे, जनसमर्थन कैसे खरीद पाओगे?

CM Hemant Soren का बीजेपी बड़ा अटैक , बोले-‘संवैधानिक संस्थानों को तो खरीद लोगे, जनसमर्थन कैसे खरीद पाओगे?

झारखंड (Jharkhand) के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) की कुर्सी पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। इसी बीच सीएम हेमंत सोरेन ने ट्वीट किया, 'संवैधानिक संस्थानों को तो खरीद लोगे, जनसमर्थन कैसे खरीद पाओगे? झारखण्ड के हमारे हजारों मेहनती पुलिसकर्मियों का यह स्नेह और यहाँ की जनता का समर्थन ही मेरी ताकत है। हैं तैयार हम! जय झारखण्ड!

By संतोष सिंह 
Updated Date

रांची। झारखंड (Jharkhand) के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) की कुर्सी पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। इसी बीच सीएम हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren)  ने ट्वीट किया, ‘संवैधानिक संस्थानों को तो खरीद लोगे, जनसमर्थन कैसे खरीद पाओगे? झारखण्ड के हमारे हजारों मेहनती पुलिस कर्मियों का यह स्नेह और यहाँ की जनता का समर्थन ही मेरी ताकत है। हैं तैयार हम! जय झारखण्ड!

पढ़ें :- Japan News : शिंजो आबे के राजकीय अंतिम संस्कार में शामिल हुए प्रधानमंत्री मोदी, 100 से अधिक देशों के नेता मौजूद

पीसी एक्ट के तहत कार्रवाई होनी चाहिए ,देखिए राज्यपाल क्या कार्रवाई करते हैं

झारखंड (Jharkhand) के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) आज 4:30 बजे प्रेस कांफ्रेंस करेंगे। हेमंत सोरेन  (Hemant Soren) ऑफिस ऑफ़ प्रॉफिट (Office of Profit) मामले पर अपना पक्ष रखेंगे । तो वहीं झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास (Former Jharkhand Chief Minister Raghubar Das) ने कहा है कि देखिए, राज्यपाल क्या कार्रवाई करते हैं। सिर्फ हेमंत सोरेन की सदस्यता ही नहीं जानी चाहिए, बल्कि उन्हें चुनाव लड़ने के अयोग्य भी घोषित किया जाना चाहिए। चूंकि यह मामला भ्रष्टाचार है, इसलिए उनके खिलाफ पीसी एक्ट के तहत कार्रवाई होनी चाहिए। उन्होंने अपने पद का दुरुपयोग किया।

सोरेन सरकार , अपने ही कुकर्मों के कारण संकट में है : रघुबर दास

रघुबर दास ( Raghubar Das) ने कहा कि देखते हैं कि राज्यपाल क्या कार्रवाई करते हैं। न केवल उनसे (झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन) उनकी सदस्यता छीन ली जानी चाहिए बल्कि उन्हें भी प्रतिबंधित किया जाना चाहिए। उनके खिलाफ पीसी एक्ट के तहत कार्रवाई की जानी चाहिए क्योंकि यह भ्रष्टाचार का मामला है। उन्होंने अपने पद का दुरुपयोग किया है। रघुबर दास ने कहा कि ‘झारखंड के लोगों ने झामुमो को बहुत उम्मीद और भरोसे के साथ चुना था, लेकिन जब से वे सत्ता में आए, उन्होंने राज्य के प्राकृतिक संसाधनों को लूटना शुरू कर दिया। आज जो हो रहा है उसके लिए अगर कोई जिम्मेदार है, तो वह खुद सोरेन सरकार है। वह अपने ही कुकर्मों के कारण संकट में है।’

पढ़ें :- PM मोदी पर हमले की योजना बनाया था PFI, ED की जांच में हुआ खुलासा

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...