1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. BJP की नई राष्ट्रीय कार्यकारिणी घोषित, मेनका गांधी-वरुण गांधी आउट, देखें पूरी लिस्ट

BJP की नई राष्ट्रीय कार्यकारिणी घोषित, मेनका गांधी-वरुण गांधी आउट, देखें पूरी लिस्ट

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने गुरुवार को राष्ट्रीय कार्यसमिति (National Executive) व राष्ट्रीय कार्यसमिति के लिए विशेष आमंत्रित और स्थायी आमंत्रित (पदेन) सदस्यों की नियुक्ति कर दिया है। इस सूची में पीएम नरेंद्र मोदी, लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, अमित शाह, राजनाथ सिंह का नाम शामिल है। भाजपा ने 80 सदस्यीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी का ऐलान किया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (BJP National President JP Nadda) ने गुरुवार को राष्ट्रीय कार्यसमिति (National Executive) व राष्ट्रीय कार्यसमिति के लिए विशेष आमंत्रित और स्थायी आमंत्रित (पदेन) सदस्यों की नियुक्ति कर दिया है। इस सूची में पीएम नरेंद्र मोदी, लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, अमित शाह, राजनाथ सिंह का नाम शामिल है।

पढ़ें :- Varun Gandhi Corona positive: वरुण गांधी की कोरोना रिपोर्ट आई पॉजिटिव, खुद को किया आइसोलेट

भाजपा ने 80 सदस्यीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी (National Executive) का ऐलान किया है। इस सूची में सबसे खास बात यह है कि सुल्तापुर से बीजेपी सांसद मेनका गांधी (BJP MP from Sultanpur Maneka Gandhi) व पीलीभीत से बीजेपी सांसद वरुण गांधी (Varun Gandhi, BJP MP from Pilibhit) को जगह नहीं मिली है। बीजेपी की नई टीम की खास बात यह है कि डेढ़ साल पहले कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आए ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) और बंगाल चुनाव से ठीक पहले बीजेपी में शामिल बॉलीवुड अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती (Bollywood Actor Mithun Chakraborty) को भी इसमें जगह दी गई है।

पढ़ें :- Election 2022 : पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होंगे या नहीं, इस पर फैसला 5 जनवरी को

बीते कुछ समय से वरुण गांधी न सिर्फ केंद्र सरकार की नीतियों और कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते रहे हैं, बल्कि लखीमपुर खीरी कांड को लेकर भी योगी सरकार के खिलाफ लगातार मुखर रहे हैं। लखीमपुर खीरी हिंसा कांड (Lakhimpur Kheri violence case) में वरुण गांधी (Varun Gandhi) हर दिन ट्वीट कर-करके योगी सरकार पर दबाव बनाते नजर आए हैं।

पीलीभीत से सांसद वरुण गांधी ने आज भी लखीमपुर खीरी हिंसा कांड (Lakhimpur Kheri violence case)  का नया वीडियो सामने आने के बाद ट्वीट किया था और अपनी ही सरकार को घेरते हुए लिखा था- यह वीडियो बिल्कुल शीशे की तरह साफ है। प्रदर्शनकारियों का मर्डर करके उनको चुप नहीं करा सकते हैं। निर्दोष किसानों का खून बहाने की घटना के लिए जवाबदेही तय करनी होगी। हर किसान के दिमाग में उग्रता और निर्दयता की भावना घर करे इसके पहले उन्हें न्याय दिलाना होगा।

बता दें कि भाजपा महासचिव अरूण सिंह की ओर से जारी एक विज्ञप्ति के मुताबिक कार्यसमिति में 50 विशेष आमंत्रित सदस्य और 179 स्थायी आमंत्रित सदस्य (पदेन) भी होंगे, जिनमें मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री, विधायक दल के नेता, पूर्व उपमुख्यमंत्री, राष्ट्रीय प्रवक्ता, राष्ट्रीय मोर्चा अध्यक्ष, प्रदेश प्रभारी, सह प्रभारी, प्रदेश अध्यक्ष, प्रदेश महामंत्री संगठन और संगठक शामिल हैं। भाजपा की राष्ट्रीय कार्यसमिति विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करती है और संगठन के कामकाज की रूपरेखा तय करती है। कोविड-19 महामारी के चलते लंबे समय से राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक नहीं हुई है।

कार्यसमिति के मनोनित सदस्यों में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान सहित कई केंद्रीय मंत्री, सांसद व वरिष्ठ नेता शामिल हैं। कार्यसमिति में पूर्व मंत्रियों हर्षवर्धन, प्रकाश जावड़ेकर और रविशंकर प्रसाद को भी जगह दी गई है।

पढ़ें :- फिर लौटेगा लॉकडाउन? गृह मंत्रालय ने Omicron को लेकर सभी राज्यों को 31 जनवरी तक जारी की गाइडलाइन
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...