लखनऊ शूटआउट: ब्लैक डे मनाने वाले पुलिसकर्मियों की खैर नहीं, बगावती सिपाही निलंबित

vivek tiwari murder case
लखनऊ शूटआउट: ब्लैक डे मनाने वाले पुलिसकर्मियों की खैर नहीं, बगावती सिपाही निलंबित

लखनऊ। गोमतीनगर में विवेक तिवारी के हत्यारोपी पुलिसकर्मी के समर्थन में आने वाले पुलिसकर्मियों की खैर नही है। इस मामले में सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट डालने वाले एक सिपाही सर्वेश चौधरी को निलंबित करने के साथ उसकी विभागीय जांच भी शुरु हो गई है। बताया जा रहा है कि यूपी पुलिस की ये कार्रवाई कल यानी 5 अक्टूबर को ‘बगावती’ पुलिसकर्मियों के ब्लैक डे मनाने के ऐलान के बाद एक सख्त संदेश के तौर पर देखी जा रही है।

Black Day By Up Police In Favour Of Constable Prashant Chaudhry Today :

आईजी एलओ प्रवीण कुमार के मुताबिक एटा के सिपाही सर्वेश चौधरी को फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट डालने पर सस्पेंड कर दिया गया है। कुछ बर्खास्त सिपाही भी सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट डाल रहे हैं। सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट डालने वालों पर हजरतगंज कोतवाली में एफआईआर दर्ज की गई है।

बता दें कि उत्तर प्रदेश पुलिस राज्य कर्मचारी परिषद खुलकर आरोपी सिपाही के समर्थन में खुलकर उतर आई है। इस संगठन ने आज अक्टूबर को काला दिवस के रूप में मनाने का ऐलान किया है। इस संगठन के महासचिव अविनाश पाठक ने कहा कि 5 तारीख से पुलिसकर्मी काली पट्टी लगाएंगे। इसके बाद 6 तारीख को इलाहाबाद में मीटिंग बुलाई गई है और उसके बाद इस दिशा में आंदोलन का फैसला लिया जाएगा। उनके मुताबिक राज्य पुलिस के सभी सिपाही आरोपी सिपाही की बिना जांच के बर्खास्तगी और उसे जेल भेजे जाने के खिलाफ लामबंद हो रहे हैं।

लखनऊ। गोमतीनगर में विवेक तिवारी के हत्यारोपी पुलिसकर्मी के समर्थन में आने वाले पुलिसकर्मियों की खैर नही है। इस मामले में सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट डालने वाले एक सिपाही सर्वेश चौधरी को निलंबित करने के साथ उसकी विभागीय जांच भी शुरु हो गई है। बताया जा रहा है कि यूपी पुलिस की ये कार्रवाई कल यानी 5 अक्टूबर को ‘बगावती’ पुलिसकर्मियों के ब्लैक डे मनाने के ऐलान के बाद एक सख्त संदेश के तौर पर देखी जा रही है। आईजी एलओ प्रवीण कुमार के मुताबिक एटा के सिपाही सर्वेश चौधरी को फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट डालने पर सस्पेंड कर दिया गया है। कुछ बर्खास्त सिपाही भी सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट डाल रहे हैं। सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट डालने वालों पर हजरतगंज कोतवाली में एफआईआर दर्ज की गई है। बता दें कि उत्तर प्रदेश पुलिस राज्य कर्मचारी परिषद खुलकर आरोपी सिपाही के समर्थन में खुलकर उतर आई है। इस संगठन ने आज अक्टूबर को काला दिवस के रूप में मनाने का ऐलान किया है। इस संगठन के महासचिव अविनाश पाठक ने कहा कि 5 तारीख से पुलिसकर्मी काली पट्टी लगाएंगे। इसके बाद 6 तारीख को इलाहाबाद में मीटिंग बुलाई गई है और उसके बाद इस दिशा में आंदोलन का फैसला लिया जाएगा। उनके मुताबिक राज्य पुलिस के सभी सिपाही आरोपी सिपाही की बिना जांच के बर्खास्तगी और उसे जेल भेजे जाने के खिलाफ लामबंद हो रहे हैं।