मंदी में कालाधन अर्थव्यवस्था को बचाता है: सीएम अखिलेश यादव

लखनऊ। एक ओर देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश में कालेधन के खिलाफ अभियान छेड़ चुके हैं। तो दूसरी ओर यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव हैं जो कालेधन के खिलाफ केन्द्र सरकार द्वारा चलाए गए आॅपरेशन का तो समर्थन कर रहे हैं, लेकिन उनके मुताबिक कालाधन मंदी के दौर से गुजर रही किसी भी अर्थव्यवस्था को बचाए रखता है।




मंगलवार को लखनऊ में पत्रकारों से बातचीत के दौरान सीएम अखिलेश यादव का यह बयान सामने आया। जिसमें वह अर्थशास्त्रियों के विचार का जिक्र करते हुए कालेधन के पक्ष में खड़े नजर आए। उम्मीद की जा रही है कि सीएम अखिलेश यादव के ​इस बयान पर विरोधी कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर करेेंगे।

प्रधानमंत्री द्वारा 500 और 1000 के नोटों को बंद किए जाने के बाद से लगातार विरोधी पार्टियां अपने—अपने तर्क के साथ केन्द्र सरकार के फैसले का विरोध कर रहीं हैं। सीएम अखिलेश यादव इससे पहले भी 500 और 1000 के नोटों को बाजार में स्वीकार करने की अंतरिम अवधि को बढ़ाने को लेकर प्रधानमंत्री को पत्र लिख चुके हैं। वहीं उनके पिता और समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव ने नोटबंदी के बाद यूपी के विधानसभा चुनावों की बधिया बैठ जाने की बात सार्वजनिक रूप से स्वीकार की है।




अब देखना ये होगा कि अखिलेश यादव के बयान का जनता के बीच कैसा संदेश जाता है? यूपी की जनता कालेधन के मुद्दे पर सीएम अखिलेश यादव के साथ खड़ी होगी या फिर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ यह आने वाला समय ही निश्चित करेगा।