सिलेंडर भरे ट्रक में लगी आग, 10 साल की मासूम घायल

बिजनौर| बिजनौर के अफजलगढ़ में उत्तराखंड के काशीपुर से हरिद्वार गैस सिलेंडर भर कर जा रहे ट्रक का टायर फट जाने के बाद उसमें आग लगने से ट्रक में भरे गैस सिलेंडरों ने भी आग पकड़ ली। उसके बाद तो ट्रक में भरे सिलेंडर धमाके के साथ फटने शुरू हो गए। एक के बाद करीब 50 से ज्यादा सिलेंडर फट गये।

Blast In Lpg Cylinder After Truck Got Fire :

इन सिलेंडरों के धमाके अफजलगढ़ में दूर तक सुनाई दिए। सिलेंडर फटने से आसपास की दुकानों को भी नुकसान पहुचा है। ट्रक में लगी आग से अफरा-तफरी मच गई ये तो सुबह का समय होने की वजह से लोग सड़कों पर नहीं थे वरना कोई बड़ा हादसा हो सकता था। सूचना मिलने के बाद कई स्थानों से पहुची फायर बिग्रेड की गाड़ियों ने काफी मुश्किल से सिलेंडरों में लगी आग पर काबू पाया। फटने वाले सिलेंडर उड़कर काफी दूर लोगो के घरों पर भी गिरे जिससे एक दस साल की छोटी बच्ची मामूली घायल हो गई।

आग लगने से ट्रक जलकर पूरी तरह तहस नहस हो गया है। सड़को पर अभी सिलेंडर बिखरे पड़े हैं। फायर और पुलिस कर्मचारी सिलेंडरों को समेटने में जुटे है। उधर फायर आफिसर धामपुर का कहना है कि सूचना मिली थी वो तभी फायर की गाड़ी लेकर यहां पहुंचे और सिलेंडरों में लगी आग बुझाते हुए उसपर काबू पा लिया। आग पूरी तरह बुझ गई।

बिजनौर| बिजनौर के अफजलगढ़ में उत्तराखंड के काशीपुर से हरिद्वार गैस सिलेंडर भर कर जा रहे ट्रक का टायर फट जाने के बाद उसमें आग लगने से ट्रक में भरे गैस सिलेंडरों ने भी आग पकड़ ली। उसके बाद तो ट्रक में भरे सिलेंडर धमाके के साथ फटने शुरू हो गए। एक के बाद करीब 50 से ज्यादा सिलेंडर फट गये। इन सिलेंडरों के धमाके अफजलगढ़ में दूर तक सुनाई दिए। सिलेंडर फटने से आसपास की दुकानों को भी नुकसान पहुचा है। ट्रक में लगी आग से अफरा-तफरी मच गई ये तो सुबह का समय होने की वजह से लोग सड़कों पर नहीं थे वरना कोई बड़ा हादसा हो सकता था। सूचना मिलने के बाद कई स्थानों से पहुची फायर बिग्रेड की गाड़ियों ने काफी मुश्किल से सिलेंडरों में लगी आग पर काबू पाया। फटने वाले सिलेंडर उड़कर काफी दूर लोगो के घरों पर भी गिरे जिससे एक दस साल की छोटी बच्ची मामूली घायल हो गई। आग लगने से ट्रक जलकर पूरी तरह तहस नहस हो गया है। सड़को पर अभी सिलेंडर बिखरे पड़े हैं। फायर और पुलिस कर्मचारी सिलेंडरों को समेटने में जुटे है। उधर फायर आफिसर धामपुर का कहना है कि सूचना मिली थी वो तभी फायर की गाड़ी लेकर यहां पहुंचे और सिलेंडरों में लगी आग बुझाते हुए उसपर काबू पा लिया। आग पूरी तरह बुझ गई।