पाकिस्तान में ‘ब्लू व्हेल गेम’ की दस्तक, डिप्रेशन में कई बच्चे

नई दिल्ली। सुसाइड गेम ‘ब्लू व्हेल’ ने अब पाकिस्तानी में भी अपने पैर पसारने शुरू कर दिये हैं। पाकिस्तान की मनोचिकित्सक आयशा सईद ने बताया कि खैबर पख्तूनख्वा के विभिन्न जिलों से पांच किशोरों को पेशावर के खैबर टीचिंग अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इन किशोरों में डिप्रेसन के लक्षण देखने को मिले थे। इन किशोरों में एक लड़की भी शामिल है।

आयशा सईद के मुताबिक, किशोरों ने इस खेल को खेलना शुरू किया और खेल में इन किशोरों को अपने हाथ पर व्हेल बनाना जैसे अजीबोगरीब टास्क करने को कहा गया, जिसके बाद किशोर डिप्रैशन में चले गए हैं। मनोचिकित्सक के मुताबिक, पीड़ित किशोरी इतनी अवसादग्रस्त थी कि उसने आत्महत्या का प्रयास किया।

{ यह भी पढ़ें:- पाकिस्तान: प्रदर्शनकारियों पर कार्रवाई के बाद भड़की हिंसा में 6 की मौत, 200 से अधिक घायल }

ब्लू व्हेल चैलेंज गेम में यूजर्स को सोशल मीडिया के जरिए 50 दिन में कुछ चैलेंज को पूरा करने के टास्क दिए जाते हैं, जिसमें अंतिम टास्क में यूजर्स को आत्महत्या जैसे चैलेंज भी दिए जाते हैं। बता दें कि इस खेल से नवंबर 2015 और अप्रैल 2016 के बीच दुनिया में 130 आत्महत्याएं हो चुकी हैं।हालांकि, पाकिस्तान में ब्लू व्हेल से अभी तक आत्महत्या का एक भी मामला दर्ज नहीं हुआ है।

{ यह भी पढ़ें:- 9 साल के लड़के की आपबीती - मदरसे में मेरे बिस्तर पर आ गए मौलवी, मुंह में शर्ट ठूसकर किया रेप }

Loading...