1. हिन्दी समाचार
  2. गैलरी
  3. Vaijayanti Mala Jeevan Parichay: महज 13 साल की उम्र से शुरू की थी एक्टिंग, ऐसे दो दशकों तक किया इंडस्ट्री पर राज

Vaijayanti Mala Jeevan Parichay: महज 13 साल की उम्र से शुरू की थी एक्टिंग, ऐसे दो दशकों तक किया इंडस्ट्री पर राज

 Bollywood Actress Vaijayanti Mala Jeevan Parichay: मनोरंजन जगत की गोल्डेन पीरियड (Golden period) की जानी मानी एक्ट्रेस वैजयंती माला (Vaijayanti Mala ) आज अपना 85 वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहीं हैं।

By आराधना शर्मा 
Updated Date

 Bollywood Actress Vaijayanti Mala Jeevan Parichay: मनोरंजन जगत की गोल्डेन पीरियड (Golden period) की जानी मानी एक्ट्रेस वैजयंती माला (Vaijayanti Mala ) आज अपना 85 वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहीं हैं। वैजयंती माला (Vaijayanti Mala) का जन्म 13 अगस्त 1936 को त्रिपलीकेन, चेन्नई में हुआ था। वैजयंती माला (Vaijayanti Mala )एक एक्ट्रेस होने के साथ साथ एक बेहतरीन राजनीतिज्ञा भी हैं। वह भरतनाट्यम की नृत्यांगना, कर्नाटक गायिका, नृत्य प्रशिक्षक और सांसद की भी भूमिका निभा भी चुकी हैं। वैजयन्ती माला ने हिन्दी फ़िल्मों पर लगभग दो दशकों तक राज किया।

पढ़ें :- Sidartha Shukla Biography: टेलीविजन के शो “बाबुल का आंगन छूटे ना से” अपना कैरियर शुरु करने वाले सिद्धार्थ आज दुनिया छोड़ गये

जीवन परिचय

नाम –                            वैजयंती माला (Vaijayanti Mala)

जन्म-                          13 अगस्त 1936 त्रिपलीकेन, चेन्नई

पिता का नाम-                एमडी रामास्वामी (MD Ramaswamy)

माता का नाम –               वसुंधरा देवी (Vasundhara Devi)

पढ़ें :- Birthday Special: भीड़ से निकल खुद के लिए भीड़ जमा करने वाले सोनू सूद ऐसे बने लाखो के मसीहा

व्यवसाय –                    एक्ट्रेस, शास्त्रीय नर्तकी, कर्नाटक संगीत गायिका

पति का नाम –                 चमन लाल बाली   (Chaman Lal Bali)

जाती –                             हिन्दू (ब्राह्मण)

नागरिकता –                     भारतीय 

बॉलीवुड का सफर 

वैजयंती माला (Vaijayanti Mala) ने महज 13 वर्ष की उम्र में ही एक्टिंग की दुनिया में कदम रखा था । वैजयन्ती माला (Vaijayanti Mala) ने सिनेमा जगत में 1949 में कदम रखा। इनकी पहली फिल्म ‘वड़कई’ थी इसके बाद 1950 में इन्होने तमिल फ़िल्म ‘जीवितम’ की मानो इसके बाद इनके करियर की गाड़ी ने तेजी पकड़ ली हो।

लेकिन अगर हिन्दी सिनेमा (Hindi cinema) की बात करें तो वैजयन्ती माला (Vaijayanti Mala) ने सबसे पहले हिन्दी फ़िल्म (hindi film) बहार और लड़की में काम किया। बॉक्स-ऑफ़िस (box-office) की फ़िल्मों में अपना अपनी अदाकारी का डंका बजाने के बाद वैजयन्ती माला (Vaijayanti Mala) देवदास में चन्द्रमुखी के रोल में 1955 में नजर आई। अपने पहले ड्रामाई कैरेक्टर में वैजयन्ती को फ़िल्मफ़ेयर अवॉर्ड (Filmfare Award) से सम्मानित किया गया।

आपको बता दें इसके बाद वैजयन्ती माला कई कामियाब फ़िल्मों में देखी गई जिनमें नई दिल्ली, नया दौर और आशा फिल्म में शामिल हुई। अपने करियर के गोल्डन पीरियड में 1958 में माला की दो फ़िल्में साधना और मधुमति की लोगों ने जमकर तारीफ की इतना ही नहीं 90 के दशक की ये सबसे ज्यादा कमाई वाली फिल्मों में से के थी। इतना ही नहीं वैजयन्ती माला को उन दो फ़िल्मों के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के रूप में नामांकित किया गया था जिसमें उसे प्रथम फ़िल्म के लिए पुरस्कृत किया गया था।

सौंदर्य की मलिका वैजयंती माला ने अपने जीवन का हर किरदार बखूबी निभाया है। डांसिंग स्टार के नाम से पहचाने जाने वाली अभिनेत्री की सुंदरता और डांस आज भी लोगों के जेहन में बसा है।

वैजयन्ती माला के पुरस्कार 

वैजयन्ती माला (Vaijayanti Mala) को पद्मश्री सम्मान से नवाजा गया।

1965 – फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री पुरस्कार – संगम

1962 – फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री पुरस्कार – गंगा जमुना

1959 – फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री पुरस्कार – मधुमती

1957 – फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री पुरस्कार – देवदास

2005 – बॉलीवुड फ़िल्म पुरस्कार – जीवनकाल सफलता

2013 – स्टारडस्ट पुरस्कार – प्राइड ऑफ़ फ़िल्म इंडस्ट्री

सालों तक दर्शकों के दिलों पर राज करने वाली वैजयंती माला (Vaijayanti Mala) , एक मंझी हुई एक्ट्रेस होने के साथ ही एक बेहतरीन डांसर भी हैं वह भरतनाट्यम की डांसर, कर्नाटक शैली की सिंगर और डांस टीचर भी रही हैं।

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...