राजनीति से खौफ खाता है बॉलीवुड: अजय देवगन

Bollywood Dares From Politics Says Ajay Devgan

मुंबई| अपनी फिल्म ‘शिवाय’ रिलीज होने का इंतजार कर रहे अभिनेता अजय देवगन का कहना है कि बॉलीवुड राजनीति से डरा-सहमा रहता है, क्योंकि अगर कोई शख्स किसी राजनीतिक पार्टी के खिलाफ कुछ बोलता है, तो उसकी फिल्म को रिलीज होने से रोक दिया जाता है। 28 अक्टूबर को बॉक्स ऑफिस पर फिल्म ‘शिवाय’ की टक्कर करण जौहर की ‘ऐ दिल है मुश्किल’ से है। इस फिल्म में पाकिस्तानी अभिनेता फवाद खान ने भूमिका निभाई है, इसलिए इसे एक राजनीतिक पार्टी से रिलीज न होने देने की धमकी मिली थी।




इससे पहले असहिष्णुता पर बयान देने के कारण बॉलीवुड हस्तियों शाहरुख खान और आमिर खान को ‘राष्ट्रवादियों’ से खरी-खोटी सुननी पड़ी थी। यहां तक कि फिल्म निर्माता मुकेश भट्ट को हाल ही में ऐलान करना पड़ा कि वह पाकिस्तानी कलाकारों के साथ काम नहीं करेंगे। अजय से यह पूछने पर कि क्या इन बयानों के पीछे राष्ट्रवाद या डर है तो उन्होंने कहा, “दोनों। जब राष्ट्रवाद की बात आती है तो मैं देश के साथ खड़ा हूं, लेकिन जब राजनीति की बात आती है तो बॉलीवुड के लोग डर जाते हैं। अगर आज आप किसी समूह के खिलाफ कुछ कहते हैं तो आपकी फिल्म रोक दी जाएगी और कुछ गलत जरूर होगा।”

आगे उन्होंने कहा, “राजनीति से संबंधित मामलों में हम असुरक्षित महसूस करते हैं। राष्ट्रवाद के बारे में मुझे नहीं लगता कि हम (बॉलीवुड) बंटे हुए हैं। हम राजनीति से दूर रहना चाहते हैं।”अजय ने अपनी पत्नी काजोल के साथ शनिवार को आज तक के कार्यक्रम ‘मंथन’ में पाकिस्तानी कलाकारों के संदर्भ में वर्तमान राजनीतिक हालात पर चर्चा की। देवगन को लगता है कि फिल्म इंडस्ट्री एक ऐसी जगह है, जहां धर्म कभी मुद्दा नहीं बना। फिल्म जगत के अन्य लोगों की तरह ही अजय को भी लगता है कि भारत और पाकिस्तान के बीच संबंध सुधरने तक वह सीमा पार के कलाकारों के साथ काम नहीं करेंगे। उन्होंने हालांकि फिल्म ‘कच्चे धागे’ में नुसरत फतेह अली के गाए गीत को सबसे अच्छा बताया।



मुंबई| अपनी फिल्म 'शिवाय' रिलीज होने का इंतजार कर रहे अभिनेता अजय देवगन का कहना है कि बॉलीवुड राजनीति से डरा-सहमा रहता है, क्योंकि अगर कोई शख्स किसी राजनीतिक पार्टी के खिलाफ कुछ बोलता है, तो उसकी फिल्म को रिलीज होने से रोक दिया जाता है। 28 अक्टूबर को बॉक्स ऑफिस पर फिल्म 'शिवाय' की टक्कर करण जौहर की 'ऐ दिल है मुश्किल' से है। इस फिल्म में पाकिस्तानी अभिनेता फवाद खान ने भूमिका निभाई है, इसलिए इसे एक राजनीतिक…