लखनऊ। उत्तर प्रदेश की चंबल घाटी अपनी बदनाम छवि और दुर्दांत डकैतों के डरावने किस्सो से हमेशा सुर्खियों में रहा है। इस बार चर्चा की वजह कुछ और ही है। यहां के इटावा से ताल्लुक रखने वाली एक्ट्रेस पिया बाजपेई अपने हुनर से सबका ध्यान आकर्षित कर रही हैं। तमिल फिल्म इंडस्ट्री में अपनी छाप छोड़ चुकी पिया अब हिन्दी सिनेमा में किस्मत आजमाने के लिये कमर कस चुकी हैं। पिया बाजपेई अक्सर अपने गृह जनपद इटावा आकर अपनी पुरानी यादों को साझा करती हैं।
पिया ने शुरुआती पढ़ाई इटावा के सरस्वती शिशु मंदिर से की और इंटरमीडियट राजकीय बालिका इंटर कॉलेज से किया। अभिनय के शौक के चलते पिया ने कई बार मुंबई मे आॅडिशन दिया। काफी प्रयास के बाद उन्हे पहली बार प्रियदर्शन के साथ एक विज्ञापन में काम करने का मौका मिला। इसी के साथ प्रियदर्शन के साथ पहली फिल्म भी मिल गई।
पिया ने अभी तक 100 से ज्यादा विज्ञापनों में काम किया है। पिया ने महानायक अमिताभ बच्चन और क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी के साथ भी विज्ञापनों में काम किया है।
पिया बाजपेई ने ‘द वर्जिन’ बोल्ड शॉर्ट फिल्म से दर्शकों को हैरान कर दिया था। कम उम्र में बॉलीवुड से लेकर टॉलीवुड तक अपनी जानदार एक्टिंग का लोहा मनवाने वाली पिया ने एक्टर दर्शन कुमार के साथ ‘मिर्जा जूलियट’ फिल्म के जरिए सिल्वर स्क्रीन पर अपने डायलॉग्स से बड़ा धमाल मचा दिया।
साल 2008 से अब तक पिया 27 से ज्यादा फिल्मों में बतौर लीड एक्ट्रेस काम कर चुकी हैं। साउथ की फिल्मों में पिया बाजपेई का चेहरा जाना पहचाना है।
पिया मानती हैं कि उनकी कामयाबी के पीछे सबसे अधिक मेहनत उनकी मां कांति ने की है। पिता बीके बाजपेई और मां कांति अपनी बेटी की कामयाबी से काफी खुश हैं।
पिया बताती हैं कि वे साल में एक-दो बार इटावा आती हैं। होली और दिवाली पर विशेषकर आती हैं।

{ यह भी पढ़ें:- 'न्यूटन' आंख खोलने वाली फिल्म है: अमिताभ बच्चन }