पाकिस्तान के उत्तरी वजीरिस्तान में हुआ बम धमाका, पुलिस मामले की जांच में जुटी

bomb blast in pakistan
पाकिस्तान के उत्तरी वजीरिस्तान में हुआ बम धमाका, पुलिस मामले की जांच में जुटी

नई दिल्ली। पड़ोसी देश पाकिस्तान के उत्तरी वजीरिस्तान के एक कृषि क्षेत्र में विस्फोट हुआ है। इस ब्लास्ट में दो लोगों की मौत हो गई है। पुलिस ने कहा कि विस्फोटक सामग्री, बन्नू जिले में जनिखेल पुलिस स्टेशन क्षेत्राधिकार के अंतर्गत ज़िन्दी अली खेल क्षेत्र में एक खेत में फेंका गया था। शुक्रवार रात को ये विस्फोट हुआ था। फिलहाल, मामला दर्ज कर लिया गया और जांच शुरू हो गई है। हालांकि, अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।

Bomb Blast In Pakistans North Waziristan Police Is Investigating The Case :

बता दें कि पाकिस्तान के क्वेटा में 15 नवंबर को बड़ा धमाका हुआ था। इस घटना में भी कई लोग घायल हो गए थे। विस्फोट क्वेटा के बुलेली इलाके में हुआ था। दरअसल, ये विस्फोट एक पुलिस वैन को निशाना बनाकर किया गया था। इस विस्फोट में तीन पुलिसकर्मी सहित 9 लोग घायल हो गए थे। ये बलूचिस्तान की प्रांतीय राजधानी में पुलिसकर्मियों को निशाना बनाते हुए ये तीसरा हमला था। ये बम एक मोटरसाइकिल में लगाया गया था।

इससे पहले अक्टूबर में कराची-रावलपिंडी तेजगाम एक्सप्रेस ट्रेन में धमाका हो गया था। ये घटना पंजाब प्रांत के दक्षिण में रहीम यार खान के पास हुई थी। दरअसल, खाना पकाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले गैस कनस्चर में धमाका हुआ था। धमाका इतना जोरदार था कि ट्रेन की तीनों बोगियों में आग लग गई है। हादसा इतना बड़ा था कि 73 लोगों की मौत हो गई थी। इसमें 30 से अधिक लोग गंभीर रुप से जख्मी हुए हैं।

नई दिल्ली। पड़ोसी देश पाकिस्तान के उत्तरी वजीरिस्तान के एक कृषि क्षेत्र में विस्फोट हुआ है। इस ब्लास्ट में दो लोगों की मौत हो गई है। पुलिस ने कहा कि विस्फोटक सामग्री, बन्नू जिले में जनिखेल पुलिस स्टेशन क्षेत्राधिकार के अंतर्गत ज़िन्दी अली खेल क्षेत्र में एक खेत में फेंका गया था। शुक्रवार रात को ये विस्फोट हुआ था। फिलहाल, मामला दर्ज कर लिया गया और जांच शुरू हो गई है। हालांकि, अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। बता दें कि पाकिस्तान के क्वेटा में 15 नवंबर को बड़ा धमाका हुआ था। इस घटना में भी कई लोग घायल हो गए थे। विस्फोट क्वेटा के बुलेली इलाके में हुआ था। दरअसल, ये विस्फोट एक पुलिस वैन को निशाना बनाकर किया गया था। इस विस्फोट में तीन पुलिसकर्मी सहित 9 लोग घायल हो गए थे। ये बलूचिस्तान की प्रांतीय राजधानी में पुलिसकर्मियों को निशाना बनाते हुए ये तीसरा हमला था। ये बम एक मोटरसाइकिल में लगाया गया था। इससे पहले अक्टूबर में कराची-रावलपिंडी तेजगाम एक्सप्रेस ट्रेन में धमाका हो गया था। ये घटना पंजाब प्रांत के दक्षिण में रहीम यार खान के पास हुई थी। दरअसल, खाना पकाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले गैस कनस्चर में धमाका हुआ था। धमाका इतना जोरदार था कि ट्रेन की तीनों बोगियों में आग लग गई है। हादसा इतना बड़ा था कि 73 लोगों की मौत हो गई थी। इसमें 30 से अधिक लोग गंभीर रुप से जख्मी हुए हैं।