सिरफिरे आशिक ने प्रेमिका को गोली मार कर खुद की भी दी जान

भोपाल। बुंदेलखंड के लवकुशनगर में प्यार में जान देने का मामला सामने आया है। प्यार में पागल एक युवक ने अपनी प्रेमिका को गोली मार कर खुद की भी जान दे दी। युवक ने बीते बुधवार तड़के 3:30 बजे युवती के घर के पीछे खेत में उसे मिलने के लिए बुलाया और कुछ देर बात करने के बाद उसे गोली मार दी| गोली लड़की के गर्दन को छूती हुई निकल गई, वहीं लड़की को गोली मारने के बाद लड़के ने खुद को भी गोली मार ली| उसकी मौके पर ही मौत हो गयी। वहीँ, घायल अवस्था में लड़की को पास के अस्पताल ले जाया गया, जहां हालत गंभीर होने पर उसे ग्वालियर के लिए रेफर कर दिया गया है।

पुलिस ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि यह प्रेम-प्रसंग का मामला लग रहा है। लड़का और लड़की दोनों एक ही गाँव के रहने वाले थे। मिली जानकारी के मुताबिक प्रेमी-प्रेमिका ने एक साथ जीने मरने की कसमें खाईं थी, वे दोनों एक दूसरे को बेहद प्यार करते थे लेकिन गाँववालों के तानों की वजह से दोनों के घरवाले और परिजन इनके रिश्ते का विरोध करते रहे। इन सब से तंग आकर और अपने प्यार को न हांसिल कर पाने की वजह से दोनों ने यह कदम उठाया।
54t54
आधी रात को दोनों खेत में मिले और करीब 2 घंटे सोच विचार करने के बाद दोनों ने जान देने के फैसला लिया। जिसमें प्रेमी की मौके पर ही मौत हो गयी लेकिन प्रेमिका को गंभीर हालत में ग्वालियर के अस्पताल भर्ती कराया गया है। पुलिस पूरे मामले की गंभीरता से जांच कर रही है। पुलिस को घटनास्थल से इस्तेमाल किया हुआ कट्टा और प्रेमी का मोबाइल मिला है। कटिया ग्राम सरपंच भोला यादव के पुत्र अंकित यादव का गांव के ही मुंशी यादव की 19 वर्षीय पुत्री सरोज यादव से पिछले 6 वर्षों से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। प्रेमी-प्रेमिका ने अपने घरवालों को समझाने की खूब कोशिश की लेकिन चुनावी रंजिश के चलते वह किसी भी कीमत पर इस रिश्ते के लिए तैयार नहीं थे। घरवालों के इस फैसले से प्रेमी-प्रेमिका मानसिक रूप से परेशान थे, जिसके बाद उन्होंने यह कदम उठाया।



//
अस्पताल में लड़की ने अपने बयान में कहा कि हम दोनों एक दूसरे से प्यार करते थे लेकिन घरवाले इस बात का विरोध करते थे। घरवालों ने शादी के लिए मंजूर नहीं दी। लड़की ने कहा कि हम दोनों ने साथ में जीने मरने का फैसला किया था, अंकित तो मर गया अब मैं क्या करूंगी जीकर मैं भी मरना चाहती हूँ।