ब्वॉयज लॉकर रूम केस में खुलासा, रेप की चैट करने वाली निकली लड़की

delhi
ब्वॉयज लॉकर रूम केस में खुलासा, रेप की चैट करने वाली निकली लड़की

इंस्टाग्राम पर बने बॉयज लॉकर रूम और लड़की से गैंगरेप की वायरल चैट से जुड़ा सनसनीखेज खुलासा आपको याद होगा. बॉयज लॉकर रूम स्कैंडल ने हर मां बाप को चिंता मे डाल दिया था. सोशल मीडिया इस्तेमाल करने वाले बच्चों की सुरक्षा उन्हें परेशान कर रही है. लेकिन अब इस कहानी में बड़ा ट्विस्ट आ गया है. बॉयज लॉकर रूम में सबसे बड़ी आरोपी बनकर एक लड़की उभर रही है. दिल्ली पुलिस ने जांच में ऐसा दावा किया है.

Boys Locker Room Case Revealed Girl Reached Chat Rape :

लड़के के भेष में निकली लड़की

सोशल मीडिया पर वायरल हुए गैंगरेप की कहानी के स्क्रीनशॉट के पीछे कोई लड़का नहीं बल्कि एक नाबालिग लड़की थी. दिल्ली पुलिस का दावा है कि लड़की ने स्नैपचैट सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सिद्धार्थ नाम से एक फर्जी प्रोफाइल बनाई. अपने दोस्त से लड़का बनकर गैंगरेप की बातें की. दोस्त ने गैंगरेप की बातों पर सहमति नहीं जताई. पुलिस का दावा है कि आरोपी लड़की ने ये प्रपंच अपने दोस्त का चरित्र समझने के लिए रचा था.

ये बात स्नैपचेट पर हुई जिसके स्क्रीनशॉट्स इंस्टाग्राम पर बने बॉयज लॉकर रूम एकाउंट में भी शेयर हुए और वहां से वायरल होने शुरू हुए.

क्या है बॉयज लॉकर रूम?

– ‘बॉयज लॉकर रूम’ इंस्टाग्राम पर 17 से 18 साल के लड़कों का एक ग्रुप था.
– इस ग्रुप में लड़कियों की मॉर्फड फोटो अपलोड कर आपत्तिजनक बातें की जाती थीं.
– ग्रुप में कम उम्र की लड़कियों के साथ रेप जैसे घिनौने अपराध की धमकी दी जाती थी.

दिल्ली पुलिस इंस्टाग्राम पर बने बॉयज लॉकर रूम मामले में 24 बच्चों से पूछताछ और ग्रुप के एडमिन को गिरफ्तार कर चुकी है.

इंस्टाग्राम पर बने बॉयज लॉकर रूम और लड़की से गैंगरेप की वायरल चैट से जुड़ा सनसनीखेज खुलासा आपको याद होगा. बॉयज लॉकर रूम स्कैंडल ने हर मां बाप को चिंता मे डाल दिया था. सोशल मीडिया इस्तेमाल करने वाले बच्चों की सुरक्षा उन्हें परेशान कर रही है. लेकिन अब इस कहानी में बड़ा ट्विस्ट आ गया है. बॉयज लॉकर रूम में सबसे बड़ी आरोपी बनकर एक लड़की उभर रही है. दिल्ली पुलिस ने जांच में ऐसा दावा किया है. लड़के के भेष में निकली लड़की सोशल मीडिया पर वायरल हुए गैंगरेप की कहानी के स्क्रीनशॉट के पीछे कोई लड़का नहीं बल्कि एक नाबालिग लड़की थी. दिल्ली पुलिस का दावा है कि लड़की ने स्नैपचैट सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सिद्धार्थ नाम से एक फर्जी प्रोफाइल बनाई. अपने दोस्त से लड़का बनकर गैंगरेप की बातें की. दोस्त ने गैंगरेप की बातों पर सहमति नहीं जताई. पुलिस का दावा है कि आरोपी लड़की ने ये प्रपंच अपने दोस्त का चरित्र समझने के लिए रचा था. ये बात स्नैपचेट पर हुई जिसके स्क्रीनशॉट्स इंस्टाग्राम पर बने बॉयज लॉकर रूम एकाउंट में भी शेयर हुए और वहां से वायरल होने शुरू हुए. क्या है बॉयज लॉकर रूम? - 'बॉयज लॉकर रूम' इंस्टाग्राम पर 17 से 18 साल के लड़कों का एक ग्रुप था. - इस ग्रुप में लड़कियों की मॉर्फड फोटो अपलोड कर आपत्तिजनक बातें की जाती थीं. - ग्रुप में कम उम्र की लड़कियों के साथ रेप जैसे घिनौने अपराध की धमकी दी जाती थी. दिल्ली पुलिस इंस्टाग्राम पर बने बॉयज लॉकर रूम मामले में 24 बच्चों से पूछताछ और ग्रुप के एडमिन को गिरफ्तार कर चुकी है.