‘मौत का अस्पताल’: तस्वीरें देख कांप जाएगी रूह, मृत बच्चों को लेकर बिलखते रहे परिजन

लखनऊ। सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संसदीय क्षेत्र में डॉक्टरों की बड़ी लापरवाही उजागर हुई है। गोरखपुर के बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज (बीआरडी अस्पताल) में 30 बच्चों की मौत के बाद हाहाकार मच गया है। इतनी बड़ी चूक के पीछे ऑक्सीजन ठप होने की वजह बताई जा रही है। हैरानी की बात ये है कि बीते दो दिन पहले ही सीएम योगी आदित्यनाथ बीआरडी हॉस्पिटल के इंसेफलाइटिस वार्ड का दौरा करने आए थे। अस्पताल के आस-पास का मंजर देख किसी की भी रूह कांप उठेगी।

{ यह भी पढ़ें:- मिर्जापुर को मिली चार बड़ी परियोजनाओं की सौगात, पीएम मोदी ने किया उद्घाटन }

खबर के बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया। शुक्रवार सुबह एक बैठक भी की गई, जिसमें जिले के कई अधिकारी शामिल हुए। इस बैठक में बांसगांव से बीजेपी सांसद कमलेश पासवान भी मौजूद थे। मीटिंग से बाहर आने के बाद बीजेपी सांसद कमलेश पासवान ने कहा, मुझे 30 मौतों की जानकारी दी गई है। जिसमें 23 अन्य और 7 बाल रोग के मरीज हैं।

{ यह भी पढ़ें:- आजमगढ़ में बोले PM मोदी- कांग्रेस बताए उनकी पार्टी मुस्लिम महिलाओं की नहीं है क्या? }

बताया जा रहा कि घंटों तक मरीजों को अंबू बैग के सहारे किसी तरह आक्सीजन की सप्लाई की गई लेकिन वह नाकाफी साबित हुई। उधर, अस्पताल प्रशासन ने आक्सीजन की कमी से मौतों को सिरे से खारिज कर रहा। प्राचार्य के अनुसार आक्सीजन की सप्लाई शुरू हो चुकी है।

बड़ा सवाल ये हि कि आखिर इन मौतों का जिम्मेदार कौन है। एक दिन ही पहले प्रदेश के सीएम योगी का दौरा जिले में था और बच्चे इस हाल से गुजर रहे हैं। पर इस तरह कि लापरवाही पर आखिर सरकार क्या कदम उठायेगी ये बड़ा सवाल है।

{ यह भी पढ़ें:- बलात्कार तो भगवान राम भी नहीं रोक सकते, यह स्वाभाविक प्रदूषण है }

लखनऊ। सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संसदीय क्षेत्र में डॉक्टरों की बड़ी लापरवाही उजागर हुई है। गोरखपुर के बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज (बीआरडी अस्पताल) में 30 बच्चों की मौत के बाद हाहाकार मच गया है। इतनी बड़ी चूक के पीछे ऑक्सीजन ठप होने की वजह बताई जा रही है। हैरानी की बात ये है कि बीते दो दिन पहले ही सीएम योगी आदित्यनाथ बीआरडी हॉस्पिटल के इंसेफलाइटिस वार्ड का दौरा करने आए थे। अस्पताल के आस-पास का मंजर देख…
Loading...