1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. यूपी में सांसों का आपातकाल जारी,नहीं सुधर रहे हैं हालत : अखिलेश यादव

यूपी में सांसों का आपातकाल जारी,नहीं सुधर रहे हैं हालत : अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण के हालत सुधर नहीं रहें हैं और सांसों का आपातकाल जारी है।श्री यादव ने सोमवार को कहा कि मुख्यमंत्री के झूठे दावों की रोजाना अस्पतालों से आ रही डरावनी तस्वीरें पोल खोल रही हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Breath Emergency Continues In Up Condition Is Not Improving Akhilesh Yadav

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण के हालत सुधर नहीं रहें हैं और सांसों का आपातकाल जारी है।

पढ़ें :- कोरोना संक्रमण: भारतीय बाजार में अगले हफ्ते से उपलब्ध होगी Sputnik V वैक्सीन, जुलाई से देश में ही होगा उत्पादन

श्री यादव ने सोमवार को कहा कि मुख्यमंत्री के झूठे दावों की रोजाना अस्पतालों से आ रही डरावनी तस्वीरें पोल खोल रही हैं। भाजपा सरकार को इससे अब शर्मिंदगी भी नहीं होती है। वस्तुतः सत्तादाल ने चार साल में कोई काम तो किया नहीं। उसने खुद आइसोलेशन में रहते रहते पूरे प्रदेश को ही आइसोलेशन में पहुंचा दिया है।

उन्होंने कहा कि कितने घरों में आज चूल्हा बुझ चुका है। मां बाप का साया उठ चुका है। पूरे का पूरा परिवार संक्रमित है, लेकिन कोई देखने वाला नहीं है। अस्पतालों में जिंदा को मुर्दा बनाया जा रहा है। मुख्यमंत्री की टीम-9 और टीम-11 कहां है? क्या कर रही है पता नहीं। सख्ती के आदेश-निर्देश सब कूड़े के ढेर में जा रहे हैं। न कहीं ऑक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति हो रही है और न कहीं बेड बढ़ रहे हैं। सरकारी अस्पतालों में जब मनमानी चल रही है तब प्राइवेट नर्सिंग होम तो सर्व स्वतंत्र की भूमिका में रहेंगे ही।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि सच तो यह है कि लोग कोरोना से ज्यादा भाजपा सरकार की लापरवाही और बदइंतजामी से दम तोड़ रहे हैं। लोगों की इस मौत के लिए भाजपा सरकार नैतिक और प्रशासनिक दोनों स्टार पर जिम्मेदार है। घड़ियाली आंसू बहाने से परिवारों को उजाड़ने से बचाया नहीं जा सकता है। दवाइयों इंजेक्शन और ऑक्सीजन सिलिंडर तथा अनन्य आवश्यक उपकरणों की कालाबाजारी पर शासन-प्रसाशन की चुस्ती कठोर कार्रवाई अभाव क्या त्राहिमाम है? ऐसी लापरवाह सरकार जनता के लिए किस काम की है?

पढ़ें :- दिल्ली-एनसीआर के प्रवासी मजदूरों के लिए सुप्रीम कोर्ट ने 'सामुदायिक रसोई' खोलने का आदेश दिया

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X