चीन से भारत पहुंची दुल्हन, मंदसौर में हिन्दू रीति रिवाज से की शादी

china girl
चीन से भारत पहुंची दुल्हन, मंदसौर में हिन्दू रीति रिवाज से की शादी

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश के मंदसौर में सच्चे प्यार की एक अनोखी कहानी सामने आई है। जहां चीन की जीहाओ वांग शुक्रवार को अपने पिता शीबो वांग, मां जिन गुआन, मौसी और उनकी बेटी के साथ मंदसौर पहुंचीं। वे रविवार को यहां सत्यार्थ मिश्रा के साथ सात फेरे लेंगी। इससे पहले शनिवार को महिला संगीत होगा। इधर, चीनी मेहमानों को लेकर स्वास्थ्य अमला सतर्क हो गया है। अधिकारी लगातार स्थिति पर निगाह रखे हुए हैं।  

Bride Arrived From China To India Married Hindu Ritual In Mandsaur :

दरअसल, इस प्रेम कहानी की शुरुआत 5 साल पहले सात समंदर पार कनाडा में हुई थी, कनाडा के ओकविल की शेर ड न यूनिवर्सिटी में सिद्धार्थ और जी हाओ की मुलाकात हुई थी। इस दौरान दोनों में प्यार हो गया। जब दोनों ने परिवार वालों को इसके बारे में बताया तो, परिजन शादी कराने को राजी हो गए।

आज चीन के डीजीयोंग शहर के शिबो वांग और उनकी पत्नी जिन गुआन अपनी बेटी ज़ी हयो का विवाह मंदसौर के सिद्धार्थ मिश्रा से करने पहुंचे। भारतीय रीति रिवाज से उन्होंने अपनी बेटी की शादी सिद्धार्थ के साथ करवाई।

शिबो वांग बताते हैं कि भारत महान देश है, यहां के आवभगत से वे काफी प्रभावित हुए हैं और अपनी बेटी की शादी सिद्धार्थ से करने में उन्हें बड़ी खुशी हो रही है। मा जिन गुयान कहती हैं कि उनकी बेटी और सिद्धार्थ में काफी अच्छी समझ है और उन्हें पूरा भरोसा है कि उनकी बेटी यहां प्रसन्न रहेगी।

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश के मंदसौर में सच्चे प्यार की एक अनोखी कहानी सामने आई है। जहां चीन की जीहाओ वांग शुक्रवार को अपने पिता शीबो वांग, मां जिन गुआन, मौसी और उनकी बेटी के साथ मंदसौर पहुंचीं। वे रविवार को यहां सत्यार्थ मिश्रा के साथ सात फेरे लेंगी। इससे पहले शनिवार को महिला संगीत होगा। इधर, चीनी मेहमानों को लेकर स्वास्थ्य अमला सतर्क हो गया है। अधिकारी लगातार स्थिति पर निगाह रखे हुए हैं।   दरअसल, इस प्रेम कहानी की शुरुआत 5 साल पहले सात समंदर पार कनाडा में हुई थी, कनाडा के ओकविल की शेर ड न यूनिवर्सिटी में सिद्धार्थ और जी हाओ की मुलाकात हुई थी। इस दौरान दोनों में प्यार हो गया। जब दोनों ने परिवार वालों को इसके बारे में बताया तो, परिजन शादी कराने को राजी हो गए। आज चीन के डीजीयोंग शहर के शिबो वांग और उनकी पत्नी जिन गुआन अपनी बेटी ज़ी हयो का विवाह मंदसौर के सिद्धार्थ मिश्रा से करने पहुंचे। भारतीय रीति रिवाज से उन्होंने अपनी बेटी की शादी सिद्धार्थ के साथ करवाई। शिबो वांग बताते हैं कि भारत महान देश है, यहां के आवभगत से वे काफी प्रभावित हुए हैं और अपनी बेटी की शादी सिद्धार्थ से करने में उन्हें बड़ी खुशी हो रही है। मा जिन गुयान कहती हैं कि उनकी बेटी और सिद्धार्थ में काफी अच्छी समझ है और उन्हें पूरा भरोसा है कि उनकी बेटी यहां प्रसन्न रहेगी।