हॉरर फिल्म Annabelle Comes Home देख रहे शख्स की थिएटर में मौत

horor
हॉरर फिल्म Annabelle Comes Home देख रहे शख्स की थिएटर में मौत

नई दिल्ली। पिछले महीने 26 जून को रिलीज हुई हॉरर फिल्म एनाबेल कम्स होम (Annabelle Comes Home) दुनियाभर में पसंद की जा रही है. लेकिन इस बीच फिल्म से जुड़ा एक रोंगटे खड़े कर देने वाला मामला सामना आया है। खबर है फिल्म देखते हुए एक 77 साल के बुजुर्ग की मौत हो गई। बुजुर्ग की मौत का पता तब चला जब फिल्म खत्म हो गई और लाइट्स ऑन हुईं।

British 77 Year Man In Thailand Dies After Watching Annabelle Comes Home :

हालांकि ये मामला भारत का नहीं थाईलैंड का है। मृतक का नाम बर्नार्ड चैनिंग बताया जा रहा है, जो कि एक ब्रिटिश नागरिक थे। खबरों की मानें तो बर्नार्ड वैकेशन पर थाईलैंड गए हुए थे। इस दौरान वो हॉरर फिल्म ‘एनाबेल कम्स होम’ देखने पहुंचे। फिल्म खत्म होने के बाद जब हॉल की लाइट्स ऑन हुईं तो बर्नार्ड के बगल वाली कुर्सी पर बैठी महिला ने देखा की वो मर चुके हैं। बर्नार्ड को इस हालत में देख महिला चिल्लाई और तुरंत आपातकालीन सेवा के लिए फोन किया।

एनाबेल कम्स होम की बात करें तो इस फिल्म को रीयल लाइफ से इंस्पायर बताया जा रहा है। इसके मुताबिक, 1970 में अमेरिका में एक मां ने अपनी बेटी डॉना के लिए दुकान से गुड़िया खरीदी थी। ये गुड़िया कुछ दिन बाद ही अपने आप हिलने लगी। कहा जाता है कि गुड़िया के अंदर एनाबेल नाम की एक लड़की की आत्मा आ गई थी।

नई दिल्ली। पिछले महीने 26 जून को रिलीज हुई हॉरर फिल्म एनाबेल कम्स होम (Annabelle Comes Home) दुनियाभर में पसंद की जा रही है. लेकिन इस बीच फिल्म से जुड़ा एक रोंगटे खड़े कर देने वाला मामला सामना आया है। खबर है फिल्म देखते हुए एक 77 साल के बुजुर्ग की मौत हो गई। बुजुर्ग की मौत का पता तब चला जब फिल्म खत्म हो गई और लाइट्स ऑन हुईं। हालांकि ये मामला भारत का नहीं थाईलैंड का है। मृतक का नाम बर्नार्ड चैनिंग बताया जा रहा है, जो कि एक ब्रिटिश नागरिक थे। खबरों की मानें तो बर्नार्ड वैकेशन पर थाईलैंड गए हुए थे। इस दौरान वो हॉरर फिल्म ‘एनाबेल कम्स होम’ देखने पहुंचे। फिल्म खत्म होने के बाद जब हॉल की लाइट्स ऑन हुईं तो बर्नार्ड के बगल वाली कुर्सी पर बैठी महिला ने देखा की वो मर चुके हैं। बर्नार्ड को इस हालत में देख महिला चिल्लाई और तुरंत आपातकालीन सेवा के लिए फोन किया। एनाबेल कम्स होम की बात करें तो इस फिल्म को रीयल लाइफ से इंस्पायर बताया जा रहा है। इसके मुताबिक, 1970 में अमेरिका में एक मां ने अपनी बेटी डॉना के लिए दुकान से गुड़िया खरीदी थी। ये गुड़िया कुछ दिन बाद ही अपने आप हिलने लगी। कहा जाता है कि गुड़िया के अंदर एनाबेल नाम की एक लड़की की आत्मा आ गई थी।