मृत शिक्षक के भाई का बयान अखिलेश यादव चुनाव के लिए ले जाएं 5 लाख

कुशीनगर। लखनऊ में बुधवार को विधानसभा के सामने माध्यमिक स्कूल के आंदोलनकारी शिक्षकों पर हुए पुलिस के लाठीचार्ज में मारे गए कुशीनगर के शिक्षक रामशीष सिंह के भाई रामपाल सिंह ने प्रदेश सरकार की सहायता लेने से इंकार कर दिया है। मृत अध्यापक के भाई का कहना है कि मुख्यमंत्री अाखिलेश यादव हमारे गांव आए, हम उन्हें पांच लाख रुपये चुनाव लड़ने के लिए दे रहे हैं। अध्यापक डॉ. रामशीष सिंह की मौत के बाद परिजनों से लेकर जिले के शिक्षकों में काफी आक्रोश है।




गुरुवार को रामशीष के शव के साथ कुशीनगर पहुंचे परिजनों ने कुशीनगर में पनियहवा के पास बड़ी गंडक नदी के किनारे शव का अंतिम संस्कार कर दिया। इस मौके पर बड़ी संख्या में शिक्षक मौजूद रहे। शोक में जिले के सभी माध्यमिक विद्यालय बंद रहे।

मृत शिक्षक डॉ. रामशीष के साथी शिक्षकों का कहना है कि रामशीष की मौत, सीधे—सीधे पुलिस द्वारा की गई हत्या का मामला है। शिक्षक और शिक्षक नेताआें ने दोषी पुलिस कर्मियों पर हत्या का केस दर्ज करने और एक करोड़ रुपये की सहायता की मांग की है। शिक्षक नेताओं ने चेतावनी दी है कि मांग पूरी न होने तक उनका आंदोलन जारी रहेगा।




आपको बता दें कि बुधवार को लखनऊ में पुलिस द्वारा किए गये लाठीचार्ज में कुशीनगर के श्री गांधी स्मारक इंटर कॉलेज के अध्यापक डॉ. रामशीष सिंह की मौत हो गई थी। मौत के बाद परिजन और जिले के शिक्षकों में आक्रोश व्याप्त है।

Loading...