1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. दबे खजाने का सपना देख आया भाई के घर, दोस्तों के साथ मिलकर खोद डाला घर

दबे खजाने का सपना देख आया भाई के घर, दोस्तों के साथ मिलकर खोद डाला घर

Brothers House Dreamed Of Buried Treasure Dug Home With Friends

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

लखनऊ: दिवाली के करीब होते ही लोगों में लक्ष्मी मिलने की संभावना भी बढ़ जाती है। इसके लिए लोग तमाम टोने-टोटके भी करते हैं। अंधविश्वास के कारण लोग कुछ ऐसा भी कर गुजरते हैं कि उनको लम्बा समय जेल में भी बिताना पड़ता है।

पढ़ें :- उत्तर प्रदेश के साथ उत्तराखंड में भी अकेले चुनाव लड़ेगी बसपा: मायावती

राजधानी के लखनऊ के गोसाईगंज थाना क्षेत्र में भी ऐसा ही मामला सामने आया है। यहां युवक ने अंधविश्वास में घर के नीचे दबे खजाना को खोजने के चक्कर में अपने भाई का घर के चलते अपने भाई का घर तक खोद डाला। जब कुछ नहीं मिला तो पुलिस ने शिकंजा कस दिया। ऐसा करने के आरोपित ने बताया कि रात में उसे सपना आया कि घर के नीचे दबे एक घड़े के अंदर सोना है। वह घर के बीच में ही कहीं गड़ा है। ऐसा सपना आने के बाद उसने अपने दोस्तों को भी खजाने में से कुछ हिस्सा देने का लालच दिया। इसके बाद युवक ने अपने चार दोस्तों के साथ भाई का पूरा घर अंदर से खोद डाला।

लखनऊ के गोसाईगंज थाना क्षेत्र के ग्राम निजाम पुर में अमरजीत साहू रहते हैं। अमरजीत साहू के भाई हरि राम साहू को देर रात यह सपना आया कि उसके भाई अमरजीत साहू के पुराने घर में सोने से भरा हुआ घड़ा गड़ा हुआ है। इसके बाद हरि राम ने अपने चार दोस्तों के साथ मिलकर रात में ही अपने भाई का घर खोद डाला और घड़ा ढूंढने लगा। उसको दोस्तों के साथ ऐसा करता देख गांव वालों ने पुलिस को सूचना दी जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया और जेल भेज दिया।

अंधविश्वास के चलते यह कृत्य करने वाले के बारे में एडीसीपी साउथ लखनऊ सुरेश चंद्र रावत ने बताया कि आरोपी हरि राम साहू को रात में सपना आया कि उसके भाई अमरजीत साहू के पुराने घर में सोने के घड़े गड़े हुए हैं जिसके बाद उसने अपने दोस्तों के साथ मिकलर रात में अपने भाई का घर खोद डाला। जब हरि राम साहू अपने दोस्तों के साथ खुदाई कर रहा था तब कुछ गांव वालों को आवाजें सुनाई दीं। इसके बाद लोगों ने चोरी की आशंका में पुलिस को इसकी सूचना दी। इस सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

आरोपित हरि राम साहू ने बताया कि मुझे रात में सपना आया था। हमने गुरु जी सहित सबको बुलाया था कि यहां पर खुदाई की जाए, लेकिन वह लोग हमारी बात नहीं माने तब हमने दोस्तों के साथ घर को खोद दिया। इसके बाद भी घड़ा नहीं मिला।

पढ़ें :- अपराधियों के खौफ के चलते प्रदेश में डर का माहौल, फिर भी राजभवन मूक दृष्टा की भूमिका में क्यों: अखिलेश

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...