सहारनपुर : स्कूल प्रबंधक की अपहरण के बाद गोली मारकर हत्या

saharanpur murder
सहारनपुर : स्कूल प्रबंधक की अपहरण के बाद गोली मारकर हत्या

सहारनपुर। उत्तर प्रदेश के सहारनपुर बदमाशों ने एक स्कूल प्रबंधक की गोली मारकर हत्या कर दी। गुरुवार रात बदमाशों ने उनका अपहरण कर लिया था, जिसके फोन कर परिजनों से दो लाख रूपए की फिरौती मांगी। परिजनों ने पैसा देने से इंकार कर दिया तो नाराज बदमाशों ने घटना को अंजाम दे दिया। प्रबंधक का शव जंगल में खून से लथपथ पड़ा था, जिसके पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेजने के साथ ही बदमाशों की तलाश शुरु कर दी है।

Brutal Murder Of A School Manager At Saharanpur After Kidnapping :

घटना सहारनपुर जिले की है। सुभाष राणा (45) बड़गांव स्थित पैरामाउंट पब्लिक स्कूल में बतौर प्रबंधक तैनात थे। वह मनौता गांव के रहने वाले थे। परिजनो के मुताबिक गुरुवार रात अचानक सुभाष गायब हो गए। कुछ देर बाद उनके पास फोन आया और बदमाशों ने सुभाष के अपहरण की जानकारी देते हुए दो लाख रूपए की फिरौती मांगी। जिसके बाद परिजनों ने पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही हरकत में आयी पुलिस बदमाशों से प्रबंधक को सकुशल बरामद करने में जुटी थी।

उधर बदमाशों को इसकी भनक लगी तो उन लोगों ने प्रबंधक की गोली मारकर हत्या कर दी। शुक्रवार सुबह प्रबंधक का शव मौरा गांव के जंगल में मिलाने से हड़कंप मच गया। प्रबंधक के शरीर पर मिटृटी लगी थी,जिससे अंदाजा लगाया जा रहाहै कि मौत से पहले उसने बदमाशों से खूब संघर्ष किया होगा। फिलहाल पुलिस मोबाइल नंबर के आधार पर बदमाशों को पकड़ने का प्रयास कर रही है। साथ ही इस बात का भी पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि हत्या फिरौती के लिए हुई और पुरानी रंजिश में वारदात को अंजाम दिया गया है।

सहारनपुर। उत्तर प्रदेश के सहारनपुर बदमाशों ने एक स्कूल प्रबंधक की गोली मारकर हत्या कर दी। गुरुवार रात बदमाशों ने उनका अपहरण कर लिया था, जिसके फोन कर परिजनों से दो लाख रूपए की फिरौती मांगी। परिजनों ने पैसा देने से इंकार कर दिया तो नाराज बदमाशों ने घटना को अंजाम दे दिया। प्रबंधक का शव जंगल में खून से लथपथ पड़ा था, जिसके पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेजने के साथ ही बदमाशों की तलाश शुरु कर दी है।घटना सहारनपुर जिले की है। सुभाष राणा (45) बड़गांव स्थित पैरामाउंट पब्लिक स्कूल में बतौर प्रबंधक तैनात थे। वह मनौता गांव के रहने वाले थे। परिजनो के मुताबिक गुरुवार रात अचानक सुभाष गायब हो गए। कुछ देर बाद उनके पास फोन आया और बदमाशों ने सुभाष के अपहरण की जानकारी देते हुए दो लाख रूपए की फिरौती मांगी। जिसके बाद परिजनों ने पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही हरकत में आयी पुलिस बदमाशों से प्रबंधक को सकुशल बरामद करने में जुटी थी।उधर बदमाशों को इसकी भनक लगी तो उन लोगों ने प्रबंधक की गोली मारकर हत्या कर दी। शुक्रवार सुबह प्रबंधक का शव मौरा गांव के जंगल में मिलाने से हड़कंप मच गया। प्रबंधक के शरीर पर मिटृटी लगी थी,जिससे अंदाजा लगाया जा रहाहै कि मौत से पहले उसने बदमाशों से खूब संघर्ष किया होगा। फिलहाल पुलिस मोबाइल नंबर के आधार पर बदमाशों को पकड़ने का प्रयास कर रही है। साथ ही इस बात का भी पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि हत्या फिरौती के लिए हुई और पुरानी रंजिश में वारदात को अंजाम दिया गया है।