साहब के फरमान पर गांधी के साथ मनेगी नेहरू की जयन्ती

लखनऊ। यूपी में शिक्षा का स्तर सुधारने की जिम्मेदारी जिन काबिल अधिकारियों के कंधे पर है, वे स्वयं कितने शिक्षित हैं। उन्हें राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और देश के पहले प्रधानमंत्री पं0 जवाहर लाल नेहरू की जयन्ती कब होती है ये भी नहीं मालूम। गांधी और नेहरू ये दो नाम हमारे ऐसे महापुरूषों के हैं जिन्हें स्कूलों की पाठ्य पुस्तकों में भी पढ़ाया जाता है। लेकिन हैरत इस बात से होती है कि इन दोनों महापुरूषों के बारे में इतनी जानकारी दिए जाने के बाद भी शिक्षा विभाग में बड़े पदों पर बैठे अधिकारी ही इनकी जयन्ती की तिथि याद नहीं रख पाते।




मामला फैजाबाद का है जहां के जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी योगेन्द्र कुमार ने एक आदेश जारी किया है। जिसमें शासन के आदेश का जिक्र करते हुए लिखा गया है कि 30 सितंबर 2016 को पितृ विसर्जन और 1 ​अक्टूबर 2016 को अग्रसेन जयन्ती के अवसर पर जिले भर के परिषदीय प्रा​थमिक और उच्च प्राथमिक विधालयों का अवकाश रहेगा। इसी आदेश में आगे लिखा गया है कि विद्यालयों में 2 अक्टूबर 2016 को गांधी जयंती और पं0 जवाहर लाल नेहरू की जयंती धूमधाम से मनाई जाएगी।




फैजाबाद बीएसए का यह आदेश अब सोशल साइट्स पर वॉयरल हो रहा है। उम्मीद है कि बीएसए साहब को भी अब अपनी गलती का अहसास हो गया होगा। अब शायद उन्हें पता चल गया होगा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का जन्मदिवस गांधी जयन्ती के रूप में 2 अक्टूबर को और पं0 जवाहर लाल नेहरू का जन्मदिवस बाल दिवस के रूप में 14 नवंबर को मनाया जाता है। ये दोनों ही आयोजन देशभर के विद्यालयों में धूमधाम से आयोजित किए जाते हैं।