PAK ने फिर किया सीजफायर उल्लंघन, BSF के 4 जवान शहीद, 3 घायल

PAK ने फिर किया सीजफायर उल्लंघन, BSF के 4 जवान शहीद, 3 घायल
PAK ने फिर किया सीजफायर उल्लंघन, BSF के 4 जवान शहीद, 3 घायल

नई दिल्‍ली। पाकिस्तान की नापाक हरकतें थमने का नाम नहीं ले रही हैं। पाकिस्तान की तरफ से बीती रात जम्मू कश्मीर के अरनिया सेक्टर के चमलियाल पोस्ट पर हुई फायरिंग में बीएसएफ के तीन अफसर सहित एक जवान शहीद हो गए। शहीदों की पहचान असिस्‍टेंट कमांडेंट जीतेंद्र सिंह, सब इंस्‍पेक्‍टर रजनीश, असिस्‍टेंट सब इंस्‍पेक्‍टर रामनिवास और कांस्‍टेबल हंसराज के रूप में हुई है। पाक की तरफ से हुई गोलीबारी में बीएसएफ के तीन अन्‍य जवान भी गंभीर रूप से हताहत हुए हैं। इन सभी को इलाज के लिए अस्‍पातल में भर्ती करा दिया गया है। जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है।

बताया जा रहा है कि पाकिस्तानी रेंजर्स ने मंगलवार की देर रात सीजफायर का उल्लंघन किया और भारतीय चौकियों को निशाना बनाया। हालांकि, बीएसएफ के जवान पाकिस्तानी गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं। पुलिस सूत्रों ने बताया कि बीएसएफ के जिन चार जवान शहीद हुए हैं, उनमें एक असिस्टेंट कमांडेंट भी हैं। ये सभी पाकिस्तानी गोलीबारी में शहीद हुए हैं।

{ यह भी पढ़ें:- जम्मू में BJP का शक्ति प्रदर्शन, अमित शाह जनसभा को करेंगे संबोधित }

बीएसएफ सूत्रों के मुताबिक, बुधवार को रामगढ़ सेक्टर के बाबा चमलियाल जांचचौकी को निशाना बनाकर की गई गोलाबारी और गोलीबारी में सहायक कमांडेंट जतिंद्र सिंह, सब इंस्पेक्टर रजनीश कुमार, एएसआई राम निवास और कांस्टेबल हंसराज शहीद हो गए। घायलों को जम्मू के सतवाड़ी के सैन्य अस्पताल में भर्ती कराया गया है। रामगढ़ सेक्टर में बाबा चमलियाल के वार्षिक उर्स से पहले पाकिस्तान ने संघर्षविराम का उल्लंघन किया है।

बता दें कि अभी 29 मई को भारत और पाकिस्तान के बीच डीजीएमओ स्तर की बातचीत हुई थी, जिसमें 2003 के संघर्ष विराम समझौते को पूरी तरह लागू करने पर सहमति बनी थी। लेकिन आज फिर पाकिस्तान ने नापाक हरकत करते हुए सीमा पर सीजफायर का उल्लंघन किया।

{ यह भी पढ़ें:- कश्मीर : सेना ने जारी की हिट लिस्ट, देखें कितने आतंकी हैं सेना के निशाने पर }

सीजफायर लागू करने पर बनी थी सहमति

भारत के डीजीएमओ लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान और पाकिस्तान के मेजर जनरल साहिर शमशाद मिर्जा के बीच बातचीत के बाद दोनों सेनाओं ने समान बयान जारी कर कहा कि दोनों देश 15 साल पुराने संघर्ष विराम समझौते को पूरी तरह से लागू करने पर सहमत हुए थे। साथ ही यह सुनिश्चित किए जाने पर बात बनी थी कि दोनों ओर से संघर्ष विराम का उल्लंघन न हो। विशेष हॉटलाइन संपर्क की पहल पाकिस्तानी डीजीएमओ की ओर से की गई थी।

बातचीत में दोनों डीजीएमओ सीमा पर संयम रखने और स्थानीय कमांडरों की फ्लैग मीटिंग के मौजूदा तंत्र के जरिए हल करने पर भी सहमत हुए थे, लेकिन पाकिस्तान की हालिया कार्रवाई से इन सभी कोशिशों पर पानी फिरता नजर आ रहा है।

{ यह भी पढ़ें:- J&K मे भेजे गए दो अधिकारी: एक ने तोड़ी नक्सलियों की कमर, दूसरे ने किया वीरप्पन को ढेर }

नई दिल्‍ली। पाकिस्तान की नापाक हरकतें थमने का नाम नहीं ले रही हैं। पाकिस्तान की तरफ से बीती रात जम्मू कश्मीर के अरनिया सेक्टर के चमलियाल पोस्ट पर हुई फायरिंग में बीएसएफ के तीन अफसर सहित एक जवान शहीद हो गए। शहीदों की पहचान असिस्‍टेंट कमांडेंट जीतेंद्र सिंह, सब इंस्‍पेक्‍टर रजनीश, असिस्‍टेंट सब इंस्‍पेक्‍टर रामनिवास और कांस्‍टेबल हंसराज के रूप में हुई है। पाक की तरफ से हुई गोलीबारी में बीएसएफ के तीन अन्‍य जवान भी गंभीर रूप से हताहत…
Loading...