बाबा रामदेव की पतंजलि से BSNL ने मिलाया हाथ, करने जा रहे बड़ा ऐलान

बाबा रामदेव की पतंजलि से BSNL ने मिलाया हाथ, करने जा रहे बड़ा ऐलान
बाबा रामदेव की पतंजलि से BSNL ने मिलाया हाथ, करने जा रहे बड़ा ऐलान

नई दिल्ली। टेलिकॉम कंपनियों में सस्ते प्लांस को लेकर होड मची हुई है। इस बीच भारत संचार निगम लिमिटेड(BSNL) मार्केट में टेलिकॉम कंपनियों को कड़ी टक्कर देने के लिए बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि से मिलकर बड़ा ऐलान कर सकती है। BSNL के ट्विटर हेंडल से मिली जानकारी के मुताबिक कंपनी के महाराष्ट्र सर्किल के सीजीएम पीयूष खरे ने बाबा रामदेव के साथ मुलाकात कर बिजनेस प्लान के बारे में चर्चा की है।

Bsnl Can Provide Cug Service To 5 Crore Patanjali Swadeshi Samriddhi Members :

BSNL अपनी क्लोज यूजर ग्रुप (CUG) सेवा को देशभर में पतंजलि स्वदेशी समृद्धि सदस्यों तक पहुंचाएगी, पतंजलि स्वदेशी समृद्धि योजना के तहत देशभर में करीब 5 करोड़ सदस्य हैं और BSNL लगभग इतने ही सिम कार्ड का डिलीवरी करेगी। आपको बता दें कि देशभर में पतंजलि स्वदेशी समृद्धि योजना के करीब 5 करोड़ सदस्य हैं और कंपनी चाहती है कि इन सदस्यों को बीएसएनएल के क्लोज यूजर ग्रुप के साथ जोड़ा जाए। इस तरह से कंपनी के पास 5 करोड़ नए यूजर्स हो जाएंगे।

बताते चलें कि रिलायंस जियो के मार्केट में आने के बाद देश की दूसरी सभी टेलिकॉम कंपनियों के उपभोक्ता रिलायंस जियो के साथ जुड़ने लगे हैं। कुछएक कंपनियों को तो अपना कारोबार बंद करना पड़ा है।

नई दिल्ली। टेलिकॉम कंपनियों में सस्ते प्लांस को लेकर होड मची हुई है। इस बीच भारत संचार निगम लिमिटेड(BSNL) मार्केट में टेलिकॉम कंपनियों को कड़ी टक्कर देने के लिए बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि से मिलकर बड़ा ऐलान कर सकती है। BSNL के ट्विटर हेंडल से मिली जानकारी के मुताबिक कंपनी के महाराष्ट्र सर्किल के सीजीएम पीयूष खरे ने बाबा रामदेव के साथ मुलाकात कर बिजनेस प्लान के बारे में चर्चा की है।BSNL अपनी क्लोज यूजर ग्रुप (CUG) सेवा को देशभर में पतंजलि स्वदेशी समृद्धि सदस्यों तक पहुंचाएगी, पतंजलि स्वदेशी समृद्धि योजना के तहत देशभर में करीब 5 करोड़ सदस्य हैं और BSNL लगभग इतने ही सिम कार्ड का डिलीवरी करेगी। आपको बता दें कि देशभर में पतंजलि स्वदेशी समृद्धि योजना के करीब 5 करोड़ सदस्य हैं और कंपनी चाहती है कि इन सदस्यों को बीएसएनएल के क्लोज यूजर ग्रुप के साथ जोड़ा जाए। इस तरह से कंपनी के पास 5 करोड़ नए यूजर्स हो जाएंगे।बताते चलें कि रिलायंस जियो के मार्केट में आने के बाद देश की दूसरी सभी टेलिकॉम कंपनियों के उपभोक्ता रिलायंस जियो के साथ जुड़ने लगे हैं। कुछएक कंपनियों को तो अपना कारोबार बंद करना पड़ा है।