नाराज मायावती ने सभापति को सौंपा इस्तीफा, बोली- सत्ता पक्ष बोलने से रोक रहा

लखनऊ। मानसून सत्र के दूसरे दिन बसपा मुखिया मायावती ने सदन में सहारनपुर की घटना पर समय ना दिये जाने पर सभापति को अपना इस्तीफा दे दिया है। मायावती ने राज्यसभा के सभापति हामिद अंसारी को अपना इस्तीफा सौंप दिया है। मायवाती ने आरोप लगाया है कि उन्हे अपने समुदाय के लोगों के लिये बोलने से रोका जा रहा है।

मायावती ने सत्ता पक्ष पर आरोप लगाते हुए कहा, मैंने स्थगन प्रस्ताव के तहत नोटिस दिया था जिसमें बोलने के लिए महज तीन मिनट मिला। जब मैंने सहारनपुर जिले के सबीरपुर गांव का मामला उठाने की कोशिश की तो सत्ता पक्ष के सदस्य खड़े होकर हंगामा करने लगे, मुझे नहीं बोलने दिया गया। माया ने कहा, अगर में अपने समाज के लिये सदन में आवाज नहीं उठा सकती तो ऐसी सदस्यता का क्या फायदा?

{ यह भी पढ़ें:- ये हैं यूपी के अच्छे पुलिस वाले, एक आईजी दूसरा दारोगा }

ये था मामला—

मंगलवार को राज्यसभा में उपसभापति पीजे कुरियन ने मायावती को अपनी बात तीन मिनट में खत्म करने को कहा था। इसी बता को लेकर मायावती नाराज हो गईं और सदन छोड़कर आर चलीं गईं थी।

{ यह भी पढ़ें:- 'मुआवजा राशि' के लिए 'मुकर' गए प्रधान, महकमा मौन, मुख्यमंत्री से शिकायत }

 

Loading...