प्रियंका के वाराणसी दौरे पर माया का तंज- सत्ता से बाहर होने पर करते हैं नाटकबाजी

Mayawati angry at Priyanka's statement
प्रियंका के वाराणसी दौरे पर माया का तंज- सत्ता से बाहर होने पर करते हैं नाटकबाजी

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी(बसपा) की मुखिया मायावती ने कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के वाराणसी दौरे पर तंज़ कसते हुए एक ट्वीट किया है। मायावती ने कहा, “कांग्रेस, भारतीय जनता पार्टी और अन्य पार्टियां सत्ता में होने पर संत रविदास को कभी सम्मान नहीं देती हैं। सत्ता से बाहर होने पर ये पार्टियां मंदिर और अन्य स्थलों पर नाटकबाजी करते हैं। जनता को इनसे सतर्क रहने की जरूरत है।”

Bsp Mayawati Guru Ravidas Jayanti Varanasi Priyanka Gandhi :

वहीं, संत शिरोमणि रविदासजी की 643वीं जयंती के अवसर पर मायावती ने एक बयान जारी करते हुए समाजवादी पार्टी को जातिवादी मानसिकता वाली पार्टी बताया है। मायावती का कहना है कि समाजवादी पार्टी की सरकार थी तो उन्होंने भदोही जिले का नाम बदल दिया था। एक अन्य ट्वीट में मायावती ने लिखा, “जबकि बसपा ही एक मात्र ऐसी पार्टी है जिसने अपनी सरकार के समय में, इनको विभिन्न स्तर पर, पूरा-पूरा मान-सम्मान दिया है। जिसे भी अब विरोधी पार्टियां एक-एक करके खत्म करने में लगी हैं। जो अति निन्दनीय है।”


आपको बता दें कि संत रविदास की 643वीं जयंती में शामिल होने के लिए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा रविवार को वाराणसी पहुंचीं। यहां पहुंचते ही बाबतपुर एयरपोर्ट पर कार्यकर्ताओं ने प्रियंका का जोर-शोर से स्वागत किया। काशी पहुंच कर प्रियंका सीधे सीरगोवर्धनपुर में स्थित मंदिर पहुंचीं और भगवान का दर्शन किया। इसके बाद वह संत रविदास की जयंती पर आयोजित समारोह में शामिल हुईं।

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी(बसपा) की मुखिया मायावती ने कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के वाराणसी दौरे पर तंज़ कसते हुए एक ट्वीट किया है। मायावती ने कहा, "कांग्रेस, भारतीय जनता पार्टी और अन्य पार्टियां सत्ता में होने पर संत रविदास को कभी सम्मान नहीं देती हैं। सत्ता से बाहर होने पर ये पार्टियां मंदिर और अन्य स्थलों पर नाटकबाजी करते हैं। जनता को इनसे सतर्क रहने की जरूरत है।" वहीं, संत शिरोमणि रविदासजी की 643वीं जयंती के अवसर पर मायावती ने एक बयान जारी करते हुए समाजवादी पार्टी को जातिवादी मानसिकता वाली पार्टी बताया है। मायावती का कहना है कि समाजवादी पार्टी की सरकार थी तो उन्होंने भदोही जिले का नाम बदल दिया था। एक अन्य ट्वीट में मायावती ने लिखा, "जबकि बसपा ही एक मात्र ऐसी पार्टी है जिसने अपनी सरकार के समय में, इनको विभिन्न स्तर पर, पूरा-पूरा मान-सम्मान दिया है। जिसे भी अब विरोधी पार्टियां एक-एक करके खत्म करने में लगी हैं। जो अति निन्दनीय है।" आपको बता दें कि संत रविदास की 643वीं जयंती में शामिल होने के लिए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा रविवार को वाराणसी पहुंचीं। यहां पहुंचते ही बाबतपुर एयरपोर्ट पर कार्यकर्ताओं ने प्रियंका का जोर-शोर से स्वागत किया। काशी पहुंच कर प्रियंका सीधे सीरगोवर्धनपुर में स्थित मंदिर पहुंचीं और भगवान का दर्शन किया। इसके बाद वह संत रविदास की जयंती पर आयोजित समारोह में शामिल हुईं।