1. हिन्दी समाचार
  2. JNU Violence: हंगामे और तोड़फोड़ पर मायावती ने की न्यायिक जांच की मांग

JNU Violence: हंगामे और तोड़फोड़ पर मायावती ने की न्यायिक जांच की मांग

By आस्था सिंह 
Updated Date

Bsp Mayawati Statement On Jnu Violence

नई दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) हिंसा मामले में कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती ने न्यायिक जांच और सख्त कार्रवाई की मांग की है। मायावती ने कहा कि, ‘जेएनयू में छात्रों व शिक्षकों के साथ हुई हिंसा अति-निन्दनीय व शर्मनाक है। केंद्र सरकार को इस घटना को अति-गंभीरता से लेना चाहिए और पूरी घटना की न्यायिक जांच हो जाए तो यह बेहतर होगा।’

पढ़ें :- मुख्यमंत्री के दफ्तर के कई कर्मचारी कोरोना संक्रमित, सीएम योगी ने खुद को किया आइसोलेट

कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह का कहना है कि, ‘जेएनयू के छात्राओं के हॉस्टल में रात को घुसकर एबीवीपी के गुंडों द्वारा जो मारपीट की गई है, उसकी मैं घोर निंदा करता हूं। दिल्ली पुलिस देखती रही। क्या भारत के गृह मंत्री पर जवाबदारी नहीं बनती? गृह मंत्री या तो इन गुंडों पर सख्त कार्यवाही करें या इस्तीफा दें।’

गौरतलब है कि जेएनयू परिसर में रविवार की शाम कुछ नकाबपोश बदमाश हाथ में डंडे और लोहे की रॉड लिए घुस गए थे। देखते ही देखते उन्होंने छात्र-छात्राओं और शिक्षकों की बेरहमी से पिटाई करना शुरू कर दी। पिटाई से जेएनयू छात्रसंघ की अध्यक्ष आइशी घोष सहित दो पदाधिकारी घायल हो गई। हमले के बाद आइशी की लहूलुहान तस्वीरें सोशल मीडिया में छा गईं, उन्हें तुरंत नजदीकी अस्पताल ले जाया गया। वहीं इस घटना में 25 से अधिक लोगों के घायल होने की खबर है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...