1. हिन्दी समाचार
  2. हलवा सेरेमनी के साथ बजट की तैयारी शुरू,वित्त मंत्री ने कर्मचारियों का मुंह मीठा कराया

हलवा सेरेमनी के साथ बजट की तैयारी शुरू,वित्त मंत्री ने कर्मचारियों का मुंह मीठा कराया

Budget 2019 Procedure Of Preparing Budget Documents Starts With Halwa Ceremony

By पर्दाफाश समूह 
Updated Date

नई दिल्ली। मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में 5 जुलाई को पेश होने वाले बजट की तैयारी हलवा सेरेमनी के साथ शुरू हो गई है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को हलवा सेरेमनी में सांसदों और वित्त मंत्रालय के अधिकारियों को हलवा खिलाकर बजट की प्रक्रिया की शुरुआत की।

पढ़ें :- काशी पूरे विश्‍व को प्रकाश देने वाली है, यहां की गलियां जीवंत और ऊर्जावान हैं : पीएम मोदी

यह पहला मौका है जब बतट महिला वित्त मंत्री की तरफ से पेश किया जाएगा। परंपरा के अनुसार हर साल आम बजट से कुछ दिन पहले श्हलवा सेरेमनी का आयोजन किया जाता है। इस मौके पर वित्त मंत्रालय के तमाम वरिष्ठ अधिकारी और कर्मचारी मौजूद रहे। इसी के साथ प्रिंटिंग प्रेस के तमाम कर्मचारियों समेत वित्त मंत्रालय के 100 अधिकारियों को बजट पेश होने तक नजरबंद कर दिया जाएगा।

हलवा सेरेमनी बजट दस्तावेजों की छपाई की शुरुआत से पहले काफी लंबे समय से मनाई जाती है। इस रस्म में एक बड़ी कढ़ाही में हलावा तैयार किया जाता है। इस हलवे को मंत्रालय के सभी कर्मचारियों के वितरित किया जाता है। हलवा बांटे जाने के बाद वित्त मंत्रालय के ज्यादातर अधिकारी और कर्मचारियों को मंत्रालय में ही पूरी दुनिया से अलग रहना होता है। ये वे कर्मचारी होते हैं जो प्रत्यक्ष तौर पर बजट बनाने से लेकर उसकी प्रिंटिंग की प्रक्रिया से जुड़े रहते हैं।

लोकसभा में वित्त मंत्री के बजट पेश किए जाने तक ये कर्मचारी अपने परिवार से फोन पर भी संपर्क नहीं कर सकते। इस रस्म के बाद वित्त मंत्रालय के सिर्फ अति वरिष्ठ अधिकारी को ही अपने घर जाने की अनुमति मिलती है। वित्त मंत्री की तरफ से हलवा बांटे जाने के बाद मंत्रालय के ज्यादातर अधिकारी और कर्मचारियों को मंत्रालय में ही पूरी दुनिया से कट कर रहना होता है। बजट बनाने की प्रक्रिया में लगे अधिकारी नॉर्थ ब्लॉक में ही रहते हैं।

वे बजट वाले दिन वित्त मंत्री का भाषण खत्म होने तक रहते हैं। इस बार के बजट में वित्त मंत्री की तरफ से नौकरीपेशा लोगों को बड़ी राहत देने की उम्मीद की जा रही है। इस बार सरकार आयकर अधिनियम के सेक्शन 8सी की निवेश पर छूट सीमा को बढ़ा सकती है। अभी तक 80सी के तहत 1 लाख 50 हजार रुपये के निवेश पर टैक्स छूट मिलती है।

पढ़ें :- रोहित शर्मा के बिना टीम इंडिया अधूरी, ज्यादातर मैचों में मिली हार, आंकड़े जानकर हो जायेंगे हैरान

इसे बढ़ाकर 2 लाख रुपये किया जा सकता है। वहीं इनकम टैक्स की सीमा बढ़ाकर 2.5 लाख रुपये से 3 लाख रुपये की जा सकती है। इस तरह कुल मिलाकर 5 लाख रुपये तक की आय को टैक्स फ्री करने का ऐलान किया जा सकता है। आपको बता दें इससे पहले सरकार की तरफ से फरवरी में पेश किए गए अंतरिम बजट में 5 लाख तक की टैक्स रीबेट दी गई थी। इसके आधार पर 5 लाख तक कमाने वाले को टैक्स से छूट थी लेकिन इससे ज्यादा कमाने वाले को पूरा टैक्स देने का प्रावधान है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...