‘स्टैचू ऑफ यूनिटी’ से ज्यादा ऊंची होगी आंध्र प्रदेश की नई विधानसभा बिल्डिंग

'स्टैचू ऑफ यूनिटी' से ज्यादा ऊंची होगी आंध्र प्रदेश की नई विधानसभा बिल्डिंग
'स्टैचू ऑफ यूनिटी' से ज्यादा ऊंची होगी आंध्र प्रदेश की नई विधानसभा बिल्डिंग

अमरावती। आंध्र प्रदेश के अमरावती में बनने वाली राज्य की नई विधानसभा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से भी ऊंची होगी। मुख्यमंत्री चंद्रबाबू ने इसका ऐलान किया। विधानसभा भवन का डिजाइन भी फाइनल कर लिया गया है।

Building At Amrawati Of Assembly Will Be Taller Than Statue Of Unity :

चंद्रबाबू नायडू अमरावती में प्रस्तावित राज्य की विधानसभा को 250 मीटर की ऊंचाई वाला भवन बनाना चाहते हैं। बता दें कि मोदी सरकार द्वारा सरदार सरोवर बांध से 3.2 किलोमीटर की दूरी पर नर्मदा नदी के टापू पर बनाए गए सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा की ऊंचाई 182 मीटर है।

नायडू ने नई विधानसभा का डिजाइन लगभग फाइनल कर लिया है, जिसमें कुछ छोटे बदलाव कर इसका ब्लूप्रिंट राज्य सरकार यूके बेस्ड नॉर्मा फॉस्टर्स ऑर्कीटेक्ट्स को देगी। नई विधानसभा में तीन मंजिलें होंगी और एक 250 मीटर ऊंचा आसमान छूता टावर लगाया जाएगा। नायडू ने उस समय यह घोषणा की है जब स्टैचू ऑफ यूनिटी के उद्घाटन के बाद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ भी अयोध्या में (कथित 201 मीटर ऊंची) भगवान राम की प्रतिमा बनाने का दावा कर चुके हैं।

ऊंची संरचनाओं पर सरकारों में होड़

गुजरात के नर्मदा सरोवर पर बनी सरदार पटेल की प्रतिमा ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ इस वक्त देश की सबसे ऊंची संरचना है। हालांकि, महाराष्ट्र सरकार उससे ऊंची छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा बनाने की तैयारी कर रही है। उत्तर प्रदेश सरकार ने भी भगवान राम की 201 मीटर ऊंची प्रतिमा बनाने का ऐलान किया है। कर्नाटक सरकार की भी मां कावेरी की 125 मीटर ऊंची प्रतिमा बनाने की योजना है।

पी. नारायण ने बताया कि सीएम नायडू में इसमें कुछ बदलाव करने को कहा है, जिसके बाद अगले कुछ दिन में मॉडल तैयार हो जाएगा। नायडू ने भवन की पांच अन्य इमारतों के मॉडल भी फाइनल कर दिए हैं। उन्होंने बताया कि सीआरडीए अधिकारियों को टेंडर का ड्रॉफ्ट तैयार करने के निर्देश भी दिए जा चुके हैं।

अमरावती। आंध्र प्रदेश के अमरावती में बनने वाली राज्य की नई विधानसभा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से भी ऊंची होगी। मुख्यमंत्री चंद्रबाबू ने इसका ऐलान किया। विधानसभा भवन का डिजाइन भी फाइनल कर लिया गया है। चंद्रबाबू नायडू अमरावती में प्रस्तावित राज्य की विधानसभा को 250 मीटर की ऊंचाई वाला भवन बनाना चाहते हैं। बता दें कि मोदी सरकार द्वारा सरदार सरोवर बांध से 3.2 किलोमीटर की दूरी पर नर्मदा नदी के टापू पर बनाए गए सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा की ऊंचाई 182 मीटर है। नायडू ने नई विधानसभा का डिजाइन लगभग फाइनल कर लिया है, जिसमें कुछ छोटे बदलाव कर इसका ब्लूप्रिंट राज्य सरकार यूके बेस्ड नॉर्मा फॉस्टर्स ऑर्कीटेक्ट्स को देगी। नई विधानसभा में तीन मंजिलें होंगी और एक 250 मीटर ऊंचा आसमान छूता टावर लगाया जाएगा। नायडू ने उस समय यह घोषणा की है जब स्टैचू ऑफ यूनिटी के उद्घाटन के बाद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ भी अयोध्या में (कथित 201 मीटर ऊंची) भगवान राम की प्रतिमा बनाने का दावा कर चुके हैं।

ऊंची संरचनाओं पर सरकारों में होड़

गुजरात के नर्मदा सरोवर पर बनी सरदार पटेल की प्रतिमा ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ इस वक्त देश की सबसे ऊंची संरचना है। हालांकि, महाराष्ट्र सरकार उससे ऊंची छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा बनाने की तैयारी कर रही है। उत्तर प्रदेश सरकार ने भी भगवान राम की 201 मीटर ऊंची प्रतिमा बनाने का ऐलान किया है। कर्नाटक सरकार की भी मां कावेरी की 125 मीटर ऊंची प्रतिमा बनाने की योजना है। पी. नारायण ने बताया कि सीएम नायडू में इसमें कुछ बदलाव करने को कहा है, जिसके बाद अगले कुछ दिन में मॉडल तैयार हो जाएगा। नायडू ने भवन की पांच अन्य इमारतों के मॉडल भी फाइनल कर दिए हैं। उन्होंने बताया कि सीआरडीए अधिकारियों को टेंडर का ड्रॉफ्ट तैयार करने के निर्देश भी दिए जा चुके हैं।