चीन ने तैयार की दुनिया की सबसे ऊंची टनल, तिब्बत जाना होगा आसान

बीजिंग। चीन ने तिब्बत को जोड़ने वाले हाईवे पर पांच सालों से बनाई जा रही टनल यानी सुरंग के निर्माण का कार्य गुरूवार को पूरा कर लिया है। इस निर्माण के साथ ही चीन ने दुनिया की सबसे ऊंची टनल बनाने का कारनामा कर दिखाया है। इस टनल के निर्माण की कुल लागत 17 करोड़ डॉलर है और इसका निर्माण कार्य 2012 में सिचुआन-तिब्बत हाईवे पर शुरू किया गया था। ये सुरंग समुद्र से 6,168 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। इस टनल के प्रयोग में लाए जाने के साथ ही चीन और तिब्बत के बीच की दूरी मात्र 10 मिनट की रह जाएगी।




मिली जानकारी के अनुसार, सिचुआन प्रांत में सात किमी लंबी यह टनल चोला माउंटेन के शिखर को काटकर बनाई गई है। सुरंग से गुजरने के लिए दो-दो लेन की सड़कें बनाई गई हैं। अभी सिचुआन-तिब्बत राजमार्ग का सफर बेहद मुश्किल भरा है। साल 2012 से बनने वाले इस टनल का आवागमन अगले साल 2017 से खोल दिया जायेगा। इसके शुरू होने से सिचुआन की राजधानी चेंगदू से तिब्बत के नागक्यू पहुंचने में दो घंटे कम समय लगेगा।




इस परियोजना के चीफ इंजीनियर याओ झिजुन ने कहा कि इस टनल का निर्माण काफी मुश्किल भरा था। सिचुआन-तिब्बत को जोड़ने के लिए अभी जो पहाड़ी हाईवे है उससे दो घंटे ज्यादा समय लगता है। तिब्बत में यह पहला हाईवे है जिसका चीन ने 1951 में निर्माण किया था। इस रास्ते से गुजरने में हिमस्खलन और चट्टानों के गिरने का खतरा रहता है।

आस्था सिंह की रिपोर्ट