1. हिन्दी समाचार
  2. बुलंदशहर हिंसा : गिरफ्तारी से पहले महीने भर तक हरिद्वार में पूजा-पाठ करता रहा योगेश राज

बुलंदशहर हिंसा : गिरफ्तारी से पहले महीने भर तक हरिद्वार में पूजा-पाठ करता रहा योगेश राज

Bulandsahar Case Accused Yogesh Raj Was In Haridwar For One Months Before Arrest

By आशीष यादव 
Updated Date

बुलंदशहर। बुलंदशहर में हिंसा और इंस्पेक्टर की हत्या के मामले में नाजमद किए बजरंग दल के जिला संयोजक गिरफ्तारी से पहले एक महीने तक हरिद्वार में रहकर पूजा—पाठ करता रहा। बताया जा रहा है कि जब योगेश राज को पता चला कि उसे नामजद कर दिया गया तो वह सीधे अपने आका की शरण में पहुंच गया। उसी के कहने पर योगेश राज एक माह तक हरिद्वार में रहा, जबकि पुलिस की टीमें उसे नोएडा, दिल्ली, गुरुग्राम आदि स्थानों पर तलाशती रहीं।

पढ़ें :- गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या: राष्ट्रपति ने कहा-सैनिकों की बहादुरी पर हम सभी देशवासियों को गर्व है

बताया जा रहा है कि घटना में नाम आने के बाद योगेश राज को संगठन के एक बड़े पदाधिकारी के सामने पेश किया गया। जिसने सामने उसने पूरी बात रखी। सूत्रों का कहना है कि योगेश राज ने संगठन के बड़े पदाधिकारी को बताया कि उसने गोकशी को लेकर नाराजगी जताई थी, न कि हिंसा को बढ़ावा दिया था।

जब संगठन के पदाधिकारी इससे सहमत हो गए कि उसका हिंसा में कोई दोष नहीं है तो उसको संरक्षण देने का मन बना लिया गया। जिसके बाद योगेश राज को गुप्त स्थान पर भेज दिया गया। उसे ऐसी जगह पर रखा जहां के बारे में कोई सोच भी नहीं सके। सूत्रों का कहना है कि हरिद्वार के एक आश्रम और धर्मशाला में योगेश राज का अधिकांश समय व्यतीत हुआ। उन्होंने बड़ी सूझ-बूझ और समझदारी के साथ योगेश राज को पुलिस से बचाए रखा।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...