बुलंदशहर कांड : इंस्पेक्टर की हत्या में शामिल बीजेपी यूथ विंग का सदस्य गिरफ्तार

bjp shikher agrawal
बुलंदशहर कांड : इंस्पेक्टर की हत्या में शामिल बीजेपी यूथ विंग का सदस्य गिरफ्तार

नई दिल्ली। बुलंदशहर के स्याना में गोकशी के बाद हुई हिंसा में इंस्पेक्टर की हत्या के मामले में पुलिस आरोपी को पकड़ने में लगी हुई है। इसी क्रम में पुलिस ने बुधवार को इस हत्याकांड में शामिल शिखर अग्रवाल को गिरफ्तार किया हैं। बताया जा रहा है कि शिखर बीजेपी यूथ विंग से जुड़ा है और वह घटना के बाद से ही फरार चल रहा था। पुलिस ने उसे हापुड़ से गिरफ्तार किया है। उसपर हिंसा को भड़काने का आरोप है।

Bulandshahr Violence Main Accused Bjp Youth Wing Member Shikhar Agarwal Arrested By Up Police :

बता दें कि शिखर अग्रवाल बीजेपी युवा मोर्चा में स्याना का नगर अध्यक्ष है। इतना ही नहीं, स्याना- चिंगरावठी बवाल में वह पहले नामजद हो चुका है। फिलहाल एसआईटी शिखर से पूछताछ कर रही है। पुलिस के मुताबिक गुरुवार को उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा।

इंस्पेक्टर हत्याकांड में अभी तक 35 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने बीते दिनों हिंसा के मुख्य आरोपी योगेश राज को गिरफ्तार किया था। बजरंग दल के जिला संयोजक योगेश राज को स्याना हिंसा का मुख्य आरोपी बनाया गया था। बताया जा रहा है कि योगेश राज की गिरफ्तारी नेताओं की सहयोग के बाद हुई थी। योगेश राज ने ही गो हत्या मामले में झूठी एफआईआर दर्ज करवाई थी।

नई दिल्ली। बुलंदशहर के स्याना में गोकशी के बाद हुई हिंसा में इंस्पेक्टर की हत्या के मामले में पुलिस आरोपी को पकड़ने में लगी हुई है। इसी क्रम में पुलिस ने बुधवार को इस हत्याकांड में शामिल शिखर अग्रवाल को गिरफ्तार किया हैं। बताया जा रहा है कि शिखर बीजेपी यूथ विंग से जुड़ा है और वह घटना के बाद से ही फरार चल रहा था। पुलिस ने उसे हापुड़ से गिरफ्तार किया है। उसपर हिंसा को भड़काने का आरोप है। बता दें कि शिखर अग्रवाल बीजेपी युवा मोर्चा में स्याना का नगर अध्यक्ष है। इतना ही नहीं, स्याना- चिंगरावठी बवाल में वह पहले नामजद हो चुका है। फिलहाल एसआईटी शिखर से पूछताछ कर रही है। पुलिस के मुताबिक गुरुवार को उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा। इंस्पेक्टर हत्याकांड में अभी तक 35 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने बीते दिनों हिंसा के मुख्य आरोपी योगेश राज को गिरफ्तार किया था। बजरंग दल के जिला संयोजक योगेश राज को स्याना हिंसा का मुख्य आरोपी बनाया गया था। बताया जा रहा है कि योगेश राज की गिरफ्तारी नेताओं की सहयोग के बाद हुई थी। योगेश राज ने ही गो हत्या मामले में झूठी एफआईआर दर्ज करवाई थी।