बुंदेलखंड़ः पूर्ण शराबबंदी समर्थक को वोट देगी ‘आधी आबादी: एनआईएस

बांदा: बुंदेलखंड़ में लंबे अरसे से नशा मुक्ति अभियान चला रही ‘नारी इंसाफ सेना’ (एनआईएस) ने कहा कि ‘उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में बिहार की नितीश सरकार की तर्ज पर पूर्ण शराबबंदी का वादा करने वाले उम्मीदवारों के ही पक्ष में बुंदेलखंड़ की ‘आधी आबादी’ मतदान करेगी।’



‘नारी इंसाफ सेना’ (एनआईएस) की प्रमुख वर्षा भारतीय ने रविवार को कहा कि ‘सूखे और दैवीय आपदाओं से जूझ रहे बुंदेलखंड़ में नशे की लत भी एक आपदा बनकर आधी आबदी पर कहर बरपाती है। घर के आंगन से लेकर सड़क तक नशेड़ी पुरुष वर्ग महिलाओं के साथ हिंसा करते हैं, लेकिन राज्य सरकार या प्रशासन खुद को जवाब देह नहीं मानने से कतरा रहा है।’ उन्होंने बताया कि ‘एनआईएस बुंदेलखंड़ में आधी आबादी के बीच ‘नशा मुक्ति अभियान’ चलाकर जागरूकता पैदा कर रहा है। इस अभियान में बांदा, चित्रकूट, महोबा, हमीरपुर, जालौन, झांसी और ललितपुर की करीब तीन सौ महिलाएं जुड़ी हैं, जो यहां पूर्ण शराबबंदी की पक्षधर हैं।’

बकौल वर्षा, ‘बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने वहां पूर्ण शराबबंदी कानून लागू कर आधी आबादी के साथ इंसाफ किया है। उत्तर प्रदेश विशेषकर बुंदेलखंड़ में भी पूर्ण शराबबंदी की जरूरत है, ताकि आंगन से लेकर सड़क तक आए दिन महिलाओं के साथ होने वाली ‘बाह्य’ और ‘घरेलू’ हिंसा में विराम लग सके।’ इन्होंने बताया कि सभी सात जनपदों में सात-सात महिलाओं का ग्रुप और उनके नियंत्रण के लिए जिला समन्वयक नियुक्त किया गया है, जो आगामी विधानसभा चुनाव में पूर्ण शराबबंदी समर्थक राजनीतिक दल के उम्मीदवार के पक्ष में आधी आबादी को मतदान करने के लिए प्रेरित कर रहा है। साथ ही चुनाव मैदान में उतरने वाले प्रत्येक सीट के सभी दलों के उम्मीदवारों से इस आशय का शपथ पत्र भरवाएगा कि चुनाव जीतने के बाद वह विधानमंडल में पूर्ण शराबबंदी का कानून पारित कराएंगे।’




वर्षा भारतीय ने बताया कि ‘नशा मुक्ति अभियान की बृहद सफलता के लिए बांदा में पुष्पा त्रिपाठी, चित्रकूट में सुमन निषाद, महोबा में सुमन चौहान (गुलाबी गैंग), हमीरपुर में वर्तिका शिवहरे, जालौन में अंजू शर्मा, झांसी में मंजू कश्यप और ललितपुर जिले में रजनी बरार (भरतपुरा) को जिला समन्वयक नियुक्त किया गया है।’ इन्होंने बताया कि ‘सभी समन्वयक विधानसभा क्षेत्रवार सह समन्वयक नियुक्त कर उम्मीदवारों से निर्धारिम प्रारूप में पूर्ण शराबबंदी कानून बनाने के समर्थन में शपथ पत्र भरवाएंगी।’

उधर, ‘गुलाबी नारी’ संगठन फतेहपुर की प्रमुख हेमलता पटेल ने रविवार को जारी अपने बयान में कहा कि ‘उनका संगठन एनआईएस के नशा मुक्ति अभियान का पूरा समर्थन करेगा और वह खुद ऐसा ही अभियान फतेहपुर की सभी विधानसभा क्षेत्रों में भी चलाएंगी।’

बाँदा से रामलाल जयन की रिपोर्ट