मुरादाबाद : मासूम बेटी को मृत समझ पिता ने घर में ही जिंदा दफनाया

muradabad buried alive
मुरादाबाद: मासूम बेटी को मृत समझ पिता ने घर में ही जिंदा दफनाया, मौत

मुरादाबाद। मुरादाबाद के मझोला थाना क्षेत्र में एक अजीबोगरीब मामला देखने को मिला। यहां एक परिवार ने अपनी बीमार बेटी को मृत समझकर दफना दिया, जिसके बाद उसकी दम घुटने से मौत हो गई। इसका खुलासा उसकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ। पीएम रिपोर्ट में डाक्टरों ने दम घुटने की बात लिखी तो आशंका जताई जा रही है कि बच्ची को जिंदा दफना दिया, जिसके बाद उसकी मौत हो गई। पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट का अध्ययन कर मुकदमा दर्ज करने की तैयारी में है।

Buried Sick Daughter Before Death In Muradabaad :

बता दें कि गांव चौधरपुर से शनिवार को पुलिस को सूचना मिली थी कि गांव के आनंदपाल के घर में बच्ची की हत्या कर उसे दफन कर दिया गया है। मौके पर पहुंची एएसपी अपर्णा गुप्ता व मझोला इंस्पेक्टर विकास सक्सेना ने कब्र खोदकर आनंदपाल की पत्नी मीना की 4 वर्षीय बेटी तारा के शव को बाहर निकलवा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। रविवार को डाक्टरों के पैनल ने उसका पोस्टमार्टम किया चौंकाने वाली बात सामने आईं पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण दम घुटना आया है। इससे तय माना जा रहा है कि बीमार बच्ची को जिंदा दफन किया गया था।

वहीं ग्रामीणों का कहना है कि बच्ची काफी दिनों से बीमार चल रही थी। जिसका परिवार वाले इलाज कराने के साथ ही तंत्र—मंत्र भी करवा रहे थे। उन लोगों ने आशंका जताई हैं कि परिजनों ने तंत्र—मंत्र के चक्कर में पड़कर मासूम को ​घर में जिंदा दफना दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। फिलहाल पुलिस इस पूरे मामले की पड़ताल कर रही है।

मुरादाबाद। मुरादाबाद के मझोला थाना क्षेत्र में एक अजीबोगरीब मामला देखने को मिला। यहां एक परिवार ने अपनी बीमार बेटी को मृत समझकर दफना दिया, जिसके बाद उसकी दम घुटने से मौत हो गई। इसका खुलासा उसकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ। पीएम रिपोर्ट में डाक्टरों ने दम घुटने की बात लिखी तो आशंका जताई जा रही है कि बच्ची को जिंदा दफना दिया, जिसके बाद उसकी मौत हो गई। पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट का अध्ययन कर मुकदमा दर्ज करने की तैयारी में है।बता दें कि गांव चौधरपुर से शनिवार को पुलिस को सूचना मिली थी कि गांव के आनंदपाल के घर में बच्ची की हत्या कर उसे दफन कर दिया गया है। मौके पर पहुंची एएसपी अपर्णा गुप्ता व मझोला इंस्पेक्टर विकास सक्सेना ने कब्र खोदकर आनंदपाल की पत्नी मीना की 4 वर्षीय बेटी तारा के शव को बाहर निकलवा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। रविवार को डाक्टरों के पैनल ने उसका पोस्टमार्टम किया चौंकाने वाली बात सामने आईं पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण दम घुटना आया है। इससे तय माना जा रहा है कि बीमार बच्ची को जिंदा दफन किया गया था।वहीं ग्रामीणों का कहना है कि बच्ची काफी दिनों से बीमार चल रही थी। जिसका परिवार वाले इलाज कराने के साथ ही तंत्र—मंत्र भी करवा रहे थे। उन लोगों ने आशंका जताई हैं कि परिजनों ने तंत्र—मंत्र के चक्कर में पड़कर मासूम को ​घर में जिंदा दफना दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। फिलहाल पुलिस इस पूरे मामले की पड़ताल कर रही है।