1. हिन्दी समाचार
  2. राजनीति
  3. बस पालिटिक्स: मायावती बोलीं- BJP-कांग्रेस कर रही घिनौनी राजनीति, प्रियंका को सलाह

बस पालिटिक्स: मायावती बोलीं- BJP-कांग्रेस कर रही घिनौनी राजनीति, प्रियंका को सलाह

Bus Politics Mayawati Said Bjp Congress Is Doing Abusive Politics Advice To Priyanka

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में प्रवासी मजदूरों को घर पहुंचाने को लेकर कांग्रेस पार्टी और यूपी सरकार के बीच पत्र युद्ध जारी है. जहां एक तरफ कांग्रेस अपने राज्यों को छोड़कर सिर्फ यूपी के मजदूरों की मदद करने पर अंड़ी है वहीं दूसरी तरफ योगी सरकार किसी भी हालत में का्ंग्रेस को बस चलाने की परमीशन नही देना चाहती. कई बार यूपी बॉर्डर पर कांग्रेसी नेताओं और पुलिस में झड़प भी हो चुकी है. इस बीच, बहुजन समाज पार्टी (BSP) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती (Mayawati) ने ट्वीट कर इस पूरी कवायद को बीजेपी और कांग्रेस की घिनौनी राजनीति करार दिया है. इसके साथ ही बसपा सुप्रीमो कांग्रेस पार्टी को सलाह भी दी है. उन्‍होंने कहा कि अगर कांग्रेस श्रमिक प्रवासियों को बसों से ही उनके घर वापसी में मदद करना चाहती है (ट्रेनों से नहीं) तो फिर इनको अपनी ये सभी बसें कांग्रेस-शासित राज्यों में श्रमिकों की मदद में लगा देनी चाहिये. यह बेहतर होगा.

पढ़ें :- सीएम योगी ने की आम जनता से अपील, कहा-अफवाहों से बचें और टीकाकरण के लिए ...

मायावती ने बुधवार को एक के बाद एक कुल 4 ट्वीट में अपनी बात रखी है. उन्होंने लिखा,, ‘पिछले कई दिनों से प्रवासी श्रमिकों को घर भेजने के नाम पर खासकर बीजेपी व कांग्रेस द्वारा जिस प्रकार से घिनौनी राजनीति की जा रही है, यह अति-दुर्भाग्यपूर्ण है. कहीं ऐसा तो नहीं कि ये पार्टियां आपसी मिलीभगत से एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप करके इनकी (मजदूरों की) त्रासदी से ध्यान हटा रही हैं?’ अगले ट्वीट में बसपा सुप्रीमो ने कहा, ‘यदि ऐसा नहीं है तो बसपा का कहना है कि कांग्रेस को श्रमिक प्रवासियों को बसों से ही घर भेजने में मदद करने पर अड़ने की बजाए, इनका टिकट लेकर ट्रेनों से ही इन्हें इनके घर भेजने में मदद करनी चाहिये. यह ज्यादा उचित व सही होगा.’

एक और ट्वीट में मायावती ने लिखा है, ‘इन्हीं सब बातों को खास ध्यान में रखकर ही बीएसपी के लोगों ने अपने सामर्थ्य के हिसाब से प्रचार व प्रसार के चक्कर में न पड़ कर, बल्कि पूरे देश में इनकी हर स्तर पर काफी मदद की है. बीजेपी व कांग्रेस पार्टी की तरह इनकी मदद की आड़ में कोई घिनौनी राजनीति नहीं की है.’

1. पिछले कई दिनों से प्रवासी श्रमिकों को घर भेजने के नाम पर खासकर बीजेपी व कांग्रेस द्वारा जिस प्रकार से घिनौनी राजनीति की जा रही है यह अति-दुर्भाग्यपूर्ण। कहीं ऐसा तो नहीं ये पार्टियाँ आपसी मिलीभगत से एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप करके इनकी त्रास्दी पर से ध्यान बाँट रही हैं? 1/4

पढ़ें :- कोरोना वैक्सीनेशन करवा उत्सव है डॉक्टर फैमिली, अहमदाबाद सीएम बोले- भ्रम-भय और संकोच के...

कांग्रेस शासित राज्यों में श्रमिकों की मदद में लगाएं बस
वहीं, आखिरी ट्वीट में मायावती ने लिखा है, ‘साथ ही बीएसपी की कांग्रेस पार्टी को यह भी सलाह है कि यदि कांग्रेस को श्रमिक प्रवासियों को बसों से ही उनके घर वापसी में मदद करनी है अर्थात ट्रेनों से नहीं करनी है तो फिर इनको अपनी ये सभी बसें कांग्रेस-शासित राज्यों में श्रमिकों की मदद में लगा देनी चाहिये तो यह बेहतर होगा.’

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...